केला किसानों को 287.58 करोड़ बीमा राशि

  • सांसद उन्मेष पाटिल का प्रयास रंग लाया
  • 41379 केला किसानों को राहत

चालीसगांव. सांसद उन्मेष पाटिल के अथक प्रयास से केला उत्पादक किसानों को राहत मिली है. जिले में 41379 किसानों को 287 करोड़ 58 लाख रुपये की कुल बीमा राशि वितरित की जाएगी. सांसद उन्मेष पाटिल के मजबूत कागज़ी पूर्ति के कारण सरकार ने मौसम पर आधारित केला फसल बीमा में उचित परिवर्तन कर किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा का लाभ दिया जा रहा है. किसानों ने सोशल मीडिया पर सांसद को पाटिल को बधाई दी है. सांसद उन्मेष  पाटिल ने कृषि आयुक्त को लिखे पत्र में कहा था कि वर्ष 2019-20 के लिए मौसम आधारित फल फसल बीमा योजना का भुगतान करने में बीमा कंपनी टालमटोल कर रही है.

आंदोलन की चेतावनी के बाद जागा कृषि विभाग

समय अवधि पूरी होने पर भी किसानों को केला बीमा योजना का लाभ नहीं दिया जा रहा है. जिसके  किसानों की हालत खराब होती जा रही है. इस समस्या को देखते हुए किसानों को मुआवजे का भुगतान तत्काल 12 फीसदी की दर से किया जाए. शीघ्र निर्णय नहीं लेने पर आंदोलन की चेतावनी दी गई थी. इस संबंध में कृषि विभाग के माध्यम से तत्काल आदेश और कार्रवाई के कारण, हजारों किसानों को कल से उनके खातों में केला फसल प्रधानमंत्री बीमा योजना के रुपये जमा किये जा रहे हैं.

45 दिनों में प्रीमियम का भुगतान अनिवार्य

जलवायु आधारित फल फसल बीमा योजना 2019-20 में, जलगांव जिले में केले की फसल बीमा लेने वाले किसानों की संख्या 42,179 अनुमानित है और उनका क्षेत्रफल 54,124 हेक्टेयर संरक्षित है.  किसान के खाते में 45 दिनों के भीतर या महाराष्ट्र सरकार के 3 सप्ताह के भीतर उनके हिस्से के प्रीमियम का भुगतान करना अनिवार्य है. इसके बावजूद किसानों को तत्काल मुआवजा नहीं दिया गया था.

पाटिल ने कृषि आयोग को लिखा था पत्र

सांसद उन्मेष  पाटिल ने कृषि आयोग को पत्र लिखकर मांग की थी कि किसानों को तत्काल मुआवजा राशि देकर राहत दी जाए, जिसका संज्ञान लेते हुए कृषि विभाग में जलगांव जिले के 41379 किसानों को 287 करोड़ 58 लाख रुपये की कुल राशि उपलब्ध कराने में अथक प्रयास किया है. कृषि विभाग के माध्यम से की गई त्वरित कार्रवाई से किसानों के खातों में धनराशि जमा होने लगी है, जिससे किसानों में खुशी का माहौल है.

नुकसान के लिए तालुका वार स्वीकृत राशि की संख्या, किसानों की संख्या.

तहसील   किसान      स्वीकृत राशि

अमलनेर     158          76 लाख .

भडगांव       154           78 लाख .

भुसावल       595       4 करोड़ 48 लाख.

बोदवड          50           39 लाख

चालीसगांव     192        84 लाख

चोपडा            6338     39 करोड़ 49ला

धरणगांव        892          41 लाख

एरंडोल           417           22 लाख .

जलगांव         3923          26 करोड़ 83 लाख,

मुक्ताईनगर    4281   32 करोड़ 42 लाख

पाचोरा        466         23 करोड़ 92 लाख.

पारोला          52       29 लाख..

रावेर     15053   11 करोड़ 78 लाख.

जिले में 41379 किसानों को कुल लाभ  287 करोड़ 58 लाख 92 हजार रुपये सांसद पाटिल के अथक प्रयासों से मिला है. किसानों के बीच खुशी का माहौल है

खानदेश में केला उत्पादन सर्वाधिक किया जाता है. केला उत्पादक किसानों की समस्या को हल करने हर संभव कोशिश की जा रही है. यह सुनिश्चित करने का प्रयास किया जाएगा कि केले की फसल को फल का दर्जा मिले और उसे स्कूल पोषण आहार में शामिल किया जाए ताकि जलगांव जिले के केला उत्पादक किसानों की आय बढ़ेगे और ज़िला का किसान खुशहाल कैसे हो, इसके हर संभव प्रयास किए जाएंगे.

-उन्मेष पाटिल, सांसद जलगांव