Antigen test of shopkeepers will be done every week

    धुलिया. जिलाधिकारी संजय यादव ने कोरोना (Corona) की विस्फोटक स्थिति को नियंत्रित करने के लिए दुकानदार (Shopkeeper) और दुकान में काम करने वाले कर्मियों की हर सप्ताह एंटीजन टेस्ट (Antigen Test) कराने के निर्देश दिये हैं। जिले में कोरोना वायरस से संक्रमित रोगियों की संख्या बढ़ रही है। इसलिए स्वास्थ्य प्रणाली को सावधान रहने की जरूरत है। डीएम कोरोना की समीक्षा बैठक में उपस्थित अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे।

    जिला कलेक्टर यादव ने कहा कि स्वास्थ्य प्रणाली को कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रसार को रोकने के लिए केंद्र सरकार द्वारा दिए गए दिशा-निर्देशों के अनुसार कार्रवाई करने की आवश्यकता है,  इसलिए धुलिया शहर में सब्जी, दूध, फल विक्रेताओं, सभी दुकानदारों, दुकान कर्मचारियों सहित सभी मजदूर फेरी विक्रेताओं की कोरोना जांच करायी जाए। इस जांच में एक भी मजदूर विक्रेता छूटने पाएं। कोरोना नियंत्रण क्षेत्र को प्रभावी ढंग से लागू किया जाए। 

    100 बेड्स की व्यवस्था कराई जाए

    शिरपुर तहसील में मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए जिला उप अस्पताल को कोविड सेंटर में रूपांतरित कर उसमें ऑक्सीजन युक्त 100 बेड्स की व्यवस्था कराई जाए। जिलाधिकारी संजय यादव ने अधिकारियों को फटकार लगाते हुए कहा कि बहुत से निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन की आवश्यकता न होने के बावजूद अनेक मरीजों ने निजी अस्पतालों में बेड पर कब्जा जमा रखा है। ऐसे मरीजों को ढूंढ कर उन्हें कोविड-19 सेंटरों में भर्ती कराया जाए। 

    लापरवाही बरतने पर होगी कड़ी कार्रवाई

    डीएम यादव ने सेंटर संचालकों को फटकार लगाते हुए कहा कि कोविड-19 मरीजों को शासन के दिशा-निर्देश के अनुसार सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएं। सुविधाओं में लापरवाही बरतने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इसी तरह से कोविड केयर केंद्र में मरीजों को बुनियादी सुविधाएं प्रदान की जानी चाहिए।  सीसीटीवी सिस्टम को सक्रिय किया जाए।  शिकायत निवारण अधिकारी का नाम संपर्क नंबर के साथ प्रदर्शित किया जाए। इसके अलावा, कोविड केयर सेंटर के प्रभारी अधिकारी सहित सभी कर्मचारी उनके निर्धारित सेंटर पर उपस्थित रहें। उनकी उपस्थिति की रिपोर्ट तुरंत प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।

    कमेटी करेगी बिल शिकायत का निपटारा

     इसी तरह से उन्होंने निर्देश दिया कि साक्री तहसील क्षेत्र के पेरेजपुर में जवान की मौत की जांच साक्री उपविभागीय अधिकारी द्वारा कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें। निजी अस्पतालों में यदि बिल के बारे में कोई शिकायत है,तो उसका निराकरण कमेटी द्वारा किया जाएगा और बिलों की शिकायत करने के लिए निजी अस्पताल दृश्य क्षेत्र नोटिस बोर्ड पर कमेटी का नंम्बर लगाएं। जिला कलेक्टर यादव ने कहा कि वे स्वयं इसका निरीक्षण करेंगे। रेमडेसिविर  इंजेक्शन निर्धारित मूल्य से अधिक मूल्य पर बेचने वाले मेडिकल तथा अस्पतालों पर फूड एंड ड्रग विभाग द्वारा कड़ी कार्रवाई की जाए। स्वास्थ्य प्रणाली द्वारा दवाओं का पर्याप्त स्टॉक उपलब्ध कराया जाए।

    संक्रमण रोकने के लिए स्वस्थ विभाग प्रति दिन 5000 लोगों की जांच की जाए। पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आए 20 व्यक्तियों की जांच कराई जाए। संक्रमित मरीजों का पता लगाने के लिए व्यापक पैमाने पर एंटीजन टेस्ट कराए जाएं। नागरिक कोरोना नियम का पालन करें। भीड़ भाड़ जमा करने वालों तथा मास्क नहीं पहने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाए।

    - संजय यादव, जिलाधिकारी