bribe

    धुलिया. एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) ने जाल बिछाकर 1000 रुपए रिश्वत (Bribe) लेते हुए भूमि अभिलेख कार्यालय के मुख्यालय सहायक को रंगे हाथों गिरफ्तार (Arrest) कर लिया है। एसीबी टीम के अनुसार, मुख्यालय सहायक ने कृषि भूमि की गणना के लिए सरकारी शुल्क मुद्रा चालान निकालने के लिए 1,000 रुपए की रिश्वत शिकायतकर्ता किसान (Farmer) से मांगी थी।

    किसान की इच्छा रिश्वत नहीं देने की होने के कारण उसने रिश्वतखोर कार्यालय सहायक की शिकायत ब्यूरो में दर्ज कराई। शिकायतकर्ता चिंचवर में एक खेत का मालिक है। उन्होंने उप-अधीक्षक भू-अभिलेख के कार्यालय में खेती की सीमा को स्थायी रूप से गणना करने के लिए आवेदन किया था।

    1000 रुपए की मांगी थी रिश्वत

    भूमि गणना करने के लिए सरकारी चालान काटने के लिए मुख्यालय के सहायक सुनील वसंत धामने  (53) ने एक हजार रुपए रिश्वत की मांग की थी। तद्नुसार, रिश्वत निवारण विभाग की  टीम ने जाल बिछाकर ऑपरेशन किया।  सुनील धामने को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया।  इस संबंध में  मामला दर्ज किया गया है। इस  कार्रवाई  को पुलिस उपाधीक्षक सुनील कुराडे के निर्देशन में जयंत सालवे, शरद काटके, संतोष हिरे, कृष्णकांत वाडीले, राजन कदम, प्रशांत चौधरी, भूषण खलानेकर, संदीप कदम, भूषण शेटे, महेश मोरे, गायत्री पाटील, सुधीर मोरे ने धर दबोचा।