पुलिस की सतर्कता से ATM तोड़ने की कोशिश नाकाम

  • तीन में से दो बदमाश सीसीटीवी फुटेज में कैद
  • एटीएम में थी 23 लाख की नकदी

पहूर. पुलिस की सतर्कता के कारण बीती रात एटीएम डकैती की वारदात नाकाम हो गई. बैंक ने एटीएम में 23 लाख रुपये जमा किए थे. ग्राहकों ने कुछ राशि निकाल ली थी. बुधवार तड़के लगभग 3 बजे एटीएम को उड़ाया जा रहा था, तब गश्त करने वाली पुलिस की सतर्कता के कारण चोरों के प्रयास को नाकाम कर दिया गया और 23 लाख रुपये की राशि चोरी होने से बच गई. एटीएम में लगे सीसीटीवी कैमरे फुटेज में दो अज्ञात चोर कैद हुए हैं, जबकि इस घटना को अंजाम देने में में तीन बदमाश शामिल थे.

प्राप्त जानकारी के अनुसार पहूर शहर बस स्टैंड इलाके में एसबीआई का एटीएम है. बीती रात को अज्ञात इन बदमाशों ने इस एटीएम को तोड़ने की कोशिश की. इसी बीच रात के समय पुलिस सायरन की आवाज सुनकर अज्ञात तीन बदमाश एटीएम को लूटने से पहले ही फरार हो गए. मौके पर पहुंची पुलिस ने बैंक मैनेजर को सेंधमारी करने का असफल प्रयास की सूचना दी, जिस पर जांच की गई तो धनराशि एटीएम में पूरी निकली, वहीं पर सीसीटीवी फुटेज में इस सेंधमारी को अंजाम देने वाले तीन संदिग्ध अपराधियों की निशानदेही हुई.

बदमाशों ने एटीएम सेंटर के सीसीटीवी कैमरों पर स्प्रे मार दिया था, जिसके कारण फुटेज धुंधला दिखाई दे रहे है. पुलिस आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगालने में लगी है. विभागीय पुलिस अधिकारी ईश्वर काकड़े ने कहा कि पुलिस जल्दी ही एटीएम लूटने की असफ़ल कोशिश करने वालों का पर्दाफाश करेगी.

बस स्टैंड पर बंद पड़े कैमरे

कानून और व्यवस्था बनाए रखने और अपराधियों पर नजर रखने के लिए पहूर बस स्टैंड सीसीटीवी कैमरे लगाने की तत्काल आवश्यकता है. इससे पहले, तत्कालीन सहायक पुलिस निरीक्षक मोहन बोरसे ने बस स्टैंड पर सीसीटीवी कैमरे लगाए थे. प्रशासन की उदासीनता के कारण कैमरे बंद पड़े हैं. जिसके चलते चोरों को अभय मिल रहा है. मैंने तत्काल सीसीटीवी फुटेज कैमरे शुरू करने की मांग की है.