BJP on the road due to letter bomb, activists adamant on resignation of Home Minister

    धुलिया. गृहमंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) द्वारा पुलिस अधिकारी सचिन वाजे से 100 करोड़ रुपए हर महीने वसूलने के मुद्दे को लेकर बीजेपी (BJP) आक्रामक हो गई है। इसको लेकर भाजपा रविवार को सड़कों पर उतर आई। भारतीय जनता पार्टी ने खानदेश के तीनों ज़िले समेत विभिन्न तहसीलों में प्रदर्शन कर गृहमंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे (Resignation) की मांग की।

    धुलिया में महानगर जिलाध्यक्ष अनूप अग्रवाल (Anoop Aggarwal) की अगुवाई में भारतीय जनता पार्टी के पदाधिकारियों ने हफ्ता वसूलने वाली ठाकरे सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और तत्काल प्रभाव से गृहमंत्री अनिल देशमुख का इस्तीफा लेने की मांग की। भाजपा कार्यकर्ताओं ने इस दौरान  मंत्री अनिल देशमुख का पुतला भी फूंका। भाजपा महानगर जिला अध्यक्ष अनूप अग्रवाल ने आघाड़ी सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में यह पहली बार हुआ है कि प्रशासन के किसी अधिकारी ने किसी मंत्री पर वसूली का आरोप लगाया है। इसके कारण महाराष्ट्र की छवि धूमिल हो रही है। नतीजतन, सरकार बर्खास्तगी के कगार पर है। इस सरकार ने सत्ता में बने रहने का अपना नैतिक अधिकार खो दिया है। मुख्यमंत्री को तुरंत पद छोड़ देना चाहिए, लोगों को इस भ्रष्ट सरकार से मुक्त करें, इस तरह की मांग भाजपा महानगर अध्यक्ष अनूप अग्रवाल, चंद्रकांत सोनार, कल्याणी अंपलकर, संजय जाधव, वंदना  थोरात, यशवंत येवलेकर चंद्रकांत गुजराथी, ओम खंडेलवाल, विजय पाच्छापुरकर,यश कदमबांडे आदि ने की है।

    नेशनल हाइवे पर प्रदर्शन से लगी कतार

    गृहमंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे और बिजली कनेक्शन कटौती अभियान को रोकने की मांग करते हुए तहसील के भाजपा कार्यकर्ता और पदाधिकारियों ने नेशनल हाइवे पर प्रदर्शन और सूबे की सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की। हाइवे पर प्रदर्शन के चलते सड़क पर वाहनों की कतार लगा गई। यातायात ठप हो गया। कार्यकर्ताओं ने तहसीलदार प्रवीण चव्हाणके और पुलिस इंस्पेक्टर दिनेश आहेर को ज्ञापन भी दिया। ज्ञापन में गृहमंत्री अनिल देशमुख का इस्तीफा, बिजली बिल की सख्ती से हो रही वसूली और बिजली कनेक्शन की कटौती अभियान को बंद करने, महिलाओं के खिलाफ अत्याचारों को रोकने की मांगें रखी गई हैं। शहर में बिजली बिल बकाया होने की सूरत में बिजली उपभोक्ताओं के घर-घर जाकर बिजली विभाग के कर्मचारी बिजली कनेक्शन काटने की मुहिम में लगे हुए हैं। बिजली के बिल में राहत के वादे से प्रदेश सरकार के मुकर जाने से पहले ही जनता में भारी असंतोष है। अब सीधे बिजली कनेक्शन कटौती अभियान जले पर नमक जैसा प्रतीत हो रहा है। इसी को मुद्दा बनाते हुए भाजपा के पिंपलनेर के मंडलाध्यक्ष मोहन सूर्यवंशी और साक्री मंडलाध्यक्ष वेडू सोनवणे के नेतृत्व में भाजपा कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। सूबे की महाविकास आघाड़ी सरकार के गृहमंत्री के खिलाफ हफ्ता वसूली के संगीन आरोप मुंबई के पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह द्वारा लगाए जाने के बाद इस को लेकर भी कार्यकर्ताओं ने सरकार की निंदा करते हुए सड़कों पर जोरदार नारेबाजी की। रास्ता रोको आंदोलन नेशनल हाइवे पर पेट्रोल पंप के नजदीक किया गया। मोहन सूर्यवंशी ,वेडु सोनवणे,राकेश दहिते, योगेश भामरे, श्रीकांत कार्ले, सुरेश शेवाले, शिवाजी देवरे,हेमंत पवार, दिनेश नवरे,राकेश अहिरराव, योगेश चौधरी,किरण सोनवणे, अंकुश राजपुत,संजय पाटिल, चेतन मराठे,अजय भामरे, संदीप  भामरे आदि पदाधिकारी आंदोलन में शामिल हुए।

    सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी

    मुंबई पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह द्वारा गृहमंत्री पर गंभीर आरोप लगाए जाने के बाद नंदुरबार भाजपा ने आक्रामक होकर रविवार को अनिल देशमुख के इस्तीफे के लिए नंदुरबार में आंदोलन किया।  इस समय पदाधिकारियों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस अवसर पर  जिला अध्यक्ष विजय चौधरी ने कहा कि राज्य के पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह ने गृहमंत्री पर गंभीर आरोप लगाए हैं। एनआईए द्वारा गिरफ्तार किए गए सचिन वाजे को प्रति माह 100 करोड़ रुपए वसूलने का आदेश दिया गया था।  यह मामला बहुत गंभीर है और महाराष्ट्र के उज्ज्वल भविष्य को कलंकित करता है।  उन्होंने महाराष्ट्र पर राजनीति के अपराधीकरण का आरोप लगाया। इस आंदोलन में जिला संगठन महामंत्री नीलेश माली, जिला उपाध्यक्ष सपना अग्रवाल, शहर अध्यक्ष नरेंद्र माली, महिला मोर्चा  प्रदेश सदस्य सविता जायसवाल, अल्पसंख्यक मोर्चा  जिलाध्यक्ष लियाकत बागवान, भटके-विमलता अग्रदी जिलाध्यक्ष संजय साठे, महिला मोर्चा शहर अध्यक्ष योगिता बडगूजर, शहर महामंत्री सचिव खुशाल चौधरी, युवा मोर्चा शहर अध्यक्ष जयेश चौधरी, अशोक चौधरी, समीर मंसूरी और अन्य ने भाग लिया।

    देशमुख की प्रतिमा का दहन

    विधायक सुरेश उर्फ राजू मामा भोले  के नेतृत्व में भाजपाइयों ने जलगांव महानगर में ठाकरे सरकार पर हमला बोला है। इस मौके पर सरकार को बर्खास्त करने के साथ ही गृह मंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे की मांग की गई। इस अवसर पर भाजपा ने  मंत्री अनिल देशमुख की प्रतिमा पर कालिख पोती उसके बाद प्रतिमा का टॉवर चौराहे पर दहन किया है। इस दौरान स्थायी समिति सभापति राजेंद्र घुगे-पाटिल, पूर्व महापौर भारती सोनवणे, नगरसेविका शुचिता हाडा सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।