Corona due to brakes on the construction of the four lane route
File

    जलगांव. एक ओर कोरोना संक्रमण (Corona Infection) से मरीज पीड़ित हैं। वहीं दूसरी ओर बाजार पर सख्त प्रतिबंध (Strict Restrictions) लगाने से अर्थव्यवस्था भी गड़बड़ा गयी है। ऐसे में कोरोना के कारण जलगांव-फागना फोर लेन मार्ग (Jalgaon-Phagana Four Lane Route) के कार्य पर भी कोरोना ने ब्रेक (Break) लगा दिया है। सड़क मार्ग के निर्माण कार्य को बंद कर दिया गया है।

    कोरोना कहर बनकर जिले में उभरा है। इसकी चपेट में सूरत- धुलिया फोर लेन हाइवे भी आ गया है। मजदूरों के संक्रमित होने से सड़क का निर्माण कार्य ठप हो गया है। जलगांव जिले में काम करने वाले ठेकेदारों के कर्मचारी भी कोरोना की जद  में आ गए हैं। दो मजदूरों की कोरोना संक्रमण से मौत भी हो गई है। जलगांव जिले में कोरोना संक्रमण का प्रकोप जारी है।  पिछले एक महीने में सक्रिय रोगियों में बड़ी वृद्धि हुई है। वहीं मरने वालों की संख्या भी दिन-प्रतिदिन बढ़ रही है। पूरे प्रदेश में कोरोना ने हाहाकार मचा रखा है। राज्य सरकार ने ब्रेक द चेन संक्रमण की शृंखला को तोड़ने 14 अप्रैल की रात से 1 मई की सुबह तक कड़े नियम लागू कर दिए हैं। इसके चलते इमरजेंसी सर्विसेज, किराना दुकानें, सब्जी व फल की दुकानों को छोड़कर सब कुछ बंद रखने के निर्देश दिए गए हैं। इसके चलते स्थानीय बाजारों से ग्राहक गायब हो गए हैं, उसका परिणाम आर्थिक मंदी के रूप में सामने उभर कर आ रहा है। सभी इस मिनी लॉकडाउन से प्रभावित हैं। 

    फोर लेन हाइवे का काम हुआ प्रभावित

    जलगांव जिले में राष्ट्रीय राजमार्ग पर फोर लेन का 3 चरणों में काम चल रहा है। फागणे- तरसोद, तरसोद- चिखली और जलगांव शहर में साढ़े सात किलोमीटर के तीन चरण वर्तमान में चल रहे हैं। कोरोना के बढ़ते प्रकोप से ये कार्य भी प्रभावित हुए हैं।

    तीन-चार स्थानों पर काम चल रहा है

    फागना-तरसोद  का कार्य अग्रोह इन्फ्रास्ट्रक्चर द्वारा निर्धारित किया गया है और चल रहा है। तरसोद से पालधी तक का बाइपास का काम फिलहाल जारी है। पालदी से  पारोला के बीच तीन-चार स्थानों पर काम चल रहा है।

    दो कर्मियों की कोरोना से मौत

    इस एजेंसी में तीन सौ मजदूर कार्यरत हैं। इसमें से कुछ मजदूरों को कोरोना का संक्रमण हुआ था, जिसमें दो की मौत हो गई। वर्तमान में 300 श्रमिक विभिन्न स्थानों पर कार्यरत हैं।  बाजार के बंद होने और तालाबंदी के डर से काम की गति धीमी चल रही है, क्योंकि कुछ मजदूर अपने गांव रवाना हो गए हैं।

    शहरी क्षेत्र में भी फोर लेन का कार्य धीमा

    जलगांव के शहरी आबादी से सटा फोर लेन का कार्य भी धीमी गति से चल रहा है। जलगांव शहर में खोटेनगर से कालिंका माता चौक तक काम चल रहा है। इसमें अंडरपास का काम चल रहा है। 

    पिछले कुछ दिनों में कोरोना के फैलने के कारण ठेकेदार के कुछ मजदूर संक्रमित पाए गए हैं। अधिकांश मजदूर अपने गांव चले गए हैं। इसलिए काम की गति पर इसका कुछ असर पड़ा है।

    - सी.एम. सिन्हा, प्रकल्प संचालक, महामार्ग प्राधिकरण