कोरोना की जंग में कूदे नगरसेवक कोठारी

10 हजार लोगों को दिया मुफ्त यूनानी काढ़ा

भुसावल. दुनिया भर में कोरोना संक्रमण का संकट है. हर कोई कोरोना बीमारी से छुटकारा पाने की पूरी कोशिश कर रहा है. कुछ लोग विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक यूनानी सामग्रियों को मुफ्त में वितरित कर लोगों की मदद कर रहे हैं. किसी को कोरोना न हो, इसके लिए भुसावल के नगर सेवक पिंटू कोठारी आयुर्वेदिक काढ़ा की सामग्री लोगों को मुफ्त में बांट रहे हैं. लगभग 10,000 लोगों को मुफ्त में आयुर्वेदिक काढ़ा की सामग्री क्षेत्र के नागरिक, नगरसेवक, विधायक, पुलिस, सामाजिक कार्यकर्ता आदि को वितरण की है.

काढे़ से कई लोगों को मिला लाभ 

भुसावल में कोरोना वायरस ने कहर बनकर उभरा है. कई लोगों की मौत संक्रमण के कारण हुई और सैकड़ों प्रभावित हुए हैं. लोगों की रोग प्रतिकारक शक्ति बढ़ाने के लिए कोठारी के मन में विचार आया और उन्होंने मालेगांव यूनानी काढ़े से प्रभावित होकर आयुर्वेदिक यूनानी काढ़े का आविष्कार कर सर्दी, खांसी के लक्षण वाले रोगियों को दिया.उन्हें कफ़ सर्दी से राहत मिली. जिसके चलते कोठारी द्वारा निर्मित काढ़े की मांग बढ़ी और परिसर के नागरिकों को उन्होंने निशुल्क वितरित किया है. कोठारी के दावे के अनुसार कोरोना अवधि के दौरान प्रभावित पुलिस कर्मियों को मुफ्त में काढ़ा दिया गया, जिससे उनकी प्रतिरक्षा बढ़ गई .कुछ पुलिस कर्मियों के लिए गए स्वैब  निगेटिव आए हैं .