Declare corona containment area

    धुलिया. धुलिया ज़िले (Dhulia District) में बढ़ते कोरोना संक्रमण (Corona Infection) की रोकथाम और उपाय योजनाओं की समीक्षा बैठक प्रभारी ज़िला अधिकारी दिलीप जगदाले (Dilip Jagdale) की अध्यक्षता में आयोजित की गयी थी। बैठक को संबोधित करते हुए प्रभारी डीएम जगदाले ने कोरोना रोकने के लिए जिले मे कंटोनमेंट क्षेत्र (Cantonment Area) घोषित करने का अधिकारियों को निर्देश दिया। साथ ही कोविड केयर सेंटर शीघ्र शुरू करने के लिए कहा है। पिछले कुछ दिनों में जिले में कोरोना वायरस से संक्रमित रोगियों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। यह चिंताजनक बात है। इस वायरस को रोकने के लिए कंटोनमेंट जोन में सख्त, प्रभावी, कुशल कार्यान्वयन आवश्यक है। 

    इस संबंध में स्थानीय स्व-सरकारी संस्थान निकाय और स्वास्थ्य विभाग तत्काल आपसी तालमेल बनाएं। नियमों का उल्लंघन करने पर करें कड़ी कार्रवाई युद्ध स्तर पर महामारी को नियंत्रित करने के लिए घरेलू अलगाव वाले मरीजों को चिकित्सा उपचार के लिए कोविड केयर सेंटर में भर्ती कराया जाए और नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई किए जाने के निर्देश दिलीप जगदाले ने दिया है। 

    स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को फटकार

    स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को फटकार लगाते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि प्रशासन की लापरवाही के कारण सड़कों पर नागरिकों की भीड़ हो रही है। नियमों का उल्लंघन किया जा रहा है जिसके चलते जिले में एक बार फिर से सक्रमण बढ़ रहा है।

    विवाह समारोहों में लग सकते हैं कड़े प्रतिबंध

    प्रभारी जिला कलेक्टर जगदाले ने कहा कि धुलिया महानगरीय क्षेत्र के साथ ग्रामीण क्षेत्रों में रोगियों की संख्या  बढ़ रही है। इस मामले को गंभीरता से लेने की जरूरत है। यदि यही स्थिति बनी रही तो कोरोना वायरस की श्रृंखला को तोड़ने के लिए जल्द ही एक सार्वजनिक जनता कर्फ्यू लगाया जाएगा, इसलिए नियमों का पालन करें अन्यथा विवाह समारोहों में उपस्थिति पर प्रतिबंध कड़े किए जाएंगे और मंगल कार्यालय का समय-समय पर निरीक्षण किया जाएगा।  इसके लिए टीमें बनाई जाएंगी।

    मुख्याधिकारियों को कड़े कदम उठाने के निर्देश

    बैठक में शिरपुर साक्री, शिंदखेडा दोंडाईचा के मुख्याधिकारियों से चर्चा की गई। उन्हें निर्देश दिया गया कि ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना के प्रसार को दूर करने के लिए  योजनाबद्ध तरीके से उपाय करें और निगरानी रखने के लिए दलों का गठन किया जाए, ऐसा निर्देश डीएम ने संबंधित मुख्य अधिकारियों को जारी किए हैं।

    भीड़ को नियंत्रित करने के कई सुझाव

    इस समय, व्यापार संघ के अध्यक्ष नितिन बंग ने शहर के विशेष बाजारों में भीड़ को नियंत्रित करने के लिए कई सुझाव दिए। उन्होंने यह भी गवाही दी कि कोरोना को नियंत्रित करने के प्रशासन के प्रयासों में व्यापारी पूरी तरह से सहयोग करेंगे और व्यापारी संघ व्यापार परिसरों में “नो मास्क, नो एंट्री” अभियान को सख्ती से लागू करेगा। धुलिया जिले में पिछले कुछ दिनों से कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ रही है। पृष्ठभूमि की समीक्षा करने के लिए सतपुडा हॉल में एक आपातकालीन समीक्षा बैठक आयोजित की गई थी। 

    बैठक में इन अधिकारियों की रही उपस्थिति

     इस अवसर पर ज़िला परिषद मुख्य कार्यकारी अधिकारी वानमथी सी, पुलिस अधीक्षक चिन्मय पंडित, महानगर पालिका आयुक्त अजीज शेख,  निवासी  उप जिलाधिकारी संजय गायकवाड, उप विभागीय अधिकारी भीमराज दराडे (धुलिया), डॉ. विक्रम बांदल (शिरपुर), कोरोना के नोडल अधिकारी तथा उप जिलाधिकारी श्रीकुमार चिंचकर, जिला शल्य चिकित्सक डॉ. माणिक सांगले, जिला परिषद जिला आरोग्य अधिकारी डॉ. संतोष नवले, जिला नियोजन अधिकारी ममता हटकर, महानगर पालिका उपायुक्त गणेश गिरी, निवासी वैद्यकीय अधिकारी डॉ. विशाल पाटिल, डॉ. महेश मोरे,डॉ. दीपक शेजवल एवं अन्य मौजूद थे।