पूर्व सैनिक से मारपीट का मामला, भाजपा सांसद उन्मेष पाटिल की जांच के आदेश

जलगांव. भाजपा सांसद उन्मेष पाटिल ने गत दिनों एक पूर्व सैनिक की पिटाई की थी. इस मामले में गृह मंत्री ने जांच के आदेश जलगांव जिला पुलिस अधीक्षक पंजाबराव देशमुख को दिया है. मुंबई में पूर्व नौदल दल सेना अधिकारी मदन शर्मा को शिवसैनिक ने मारा था. यह मामला ठंडा हुआ भी नहीं था कि जलगांव के सांसद उन्मेष पाटिल पर आरोप है कि उन्होंने पूर्व सैनिक सोनू हिंमत महाजन को 2 जून 2016 से मारपीट की थी. इस मामले में पूर्व सैनिक ने मुकुंद कोठावदे, भावेश कोठावदे, भारती कोठावदे, पप्पू कोठावदे, लक्ष्मीबाई कोठावदे, बबड्या शेख, भूषण उर्फ शुभम बोरसे, जितेंद्र वाघ तथा तत्कालीन विधायक तथा वर्तमान सांसद उन्मेष पाटिल के खिलाफ मारपीट करने का आरोप पूर्व सैनिक सोनू महाजन ने लगाया था.

भाजपा की सरकार में दब गया था मामला

औरंगाबाद पीठ के आदेश के बाद, 7 मई, 2019 को तत्कालीन विधायक उन्मेष पाटिल और नौ अन्य के खिलाफ चालीसगांव पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया था. जब मामला दर्ज किया गया, उस समय प्रदेश में भाजपा की सरकार थी. इस मामले को दबा दिया गया था. अब पूर्व नौदल अधिकारी से शिव सैनिकों की बदतमीजी के बाद पूर्व सैनिक की शिकायत पर आघाड़ी सरकार ने भाजपा के विधायक तथा वर्तमान सांसद उन्मेष पाटिल और अन्य की जांच के आदेश गृह मंत्री अनिल देशमुख ने जलगांव ज़िला पुलिस अधीक्षक उगले को दिए हैं.