अवैध गांजा की खेती का पर्दाफाश, 3 आरोपियों पर कसा शिकंजा

  • 14 लाख 8 हजार के मादक पदार्थ के पौधे जब्त

शिरपुर. ग्रामीण पुलिस ने मादक पदार्थ गांजा की अवैध खेती का पर्दाफाश किया है. किसान समेत अन्य दो व्यक्तियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. संदिग्ध आरोपी के खेत से पुलिस ने 14 लाख रुपये के 704 किलो गांजा के पौधे बरामद किया है.

शिरपुर  ग्रामीण थाना प्रभारी निरीक्षक अभिषेक पाटिल को खुफिया सूत्रों से जानकारी प्राप्त थी कि तहसील क्षेत्र के उमर्दा इलाके में एक खेत में बड़े पैमाने पर अवैध रूप से मादक नशीले पदार्थ गांजा की खेती किसान अपसिंग दित्या गुलवणे  करता है, इसकी सूचना मिलने के बाद अभिषेक पाटिल के नेतृत्व में छापा मारा गया और गांजा की खेती का मामला  एमपीडीए के तहत दर्ज कर किया गया. पुलिस 704 किलो  गांजे के पौधों को बरामद किया है जिसका मूल्य पुलिस ने 14 लाख 8 हजार रुपये बताया है.

पुलिस ने चलाया सघन जांच मुहिम

पुलिस सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार  सांगवी ग्रामीण पुलिस थाने की सीमा क्षेत्र में अवैध रूप से गांजे की खेती और  तस्करी का कारोबार जोरों पर शुरू है. इस पर नकेल कसने के लिए थाना प्रभारी अधिकारी अभिषेक पाटिल ने इलाके में सघन जांच मुहिम अभियान चलाया था. उन्हें बुधवार की शाम को मुखबिर से गांजा खेती की सूचना मिली थी. शिरपुर ग्रामीण पुलिस थाना क्षेत्र के खेत में दबिश देकर लाखों रुपये के गांजे के पौधे सहित अपसिंग दित्या गुलवणे 57 उसके सहयोगी आरोपी कुवरसिंह मगन वलवी सुनील बाबूलाल वलवी निवासी उर्मदा ता. शिरपुर को गिरफ्तार किया है.

कार्रवाई में शामिल कर्मचारी

इस कार्रवाई को सफलतापूर्वक पुलिस अधीक्षक चिन्मय पंडित अपर पुलिस अधीक्षक प्रशांत बच्छाव उपविभागीय पुलिस अधिकारी शिरपुर अनिल माने के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी निरीक्षक अभिषेक पाटिल, उप निरीक्षक नरेंद्र खैरनार दीपक वारे हेड कांस्टेबल लक्ष्मण गवली, हेमंत फुलपगारे, शामसिंह वलवी, अनारसिंह पवार प्रवीण पवार, गोविंद कोली, योगेश दाभाडे, योगेश मोरे, शामसिंह पावरा महिला पुलिस आश्विनी चौधरी ने अंजाम दिया है.