Innovative venture of Jalgaon police, if curfew is broken, corona check on roads - if positive, go directly to quarantine center

    जलगांव. एक तरफ मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Chief Minister Uddhav Thackeray) ने 14 अप्रैल की रात से सख्त प्रतिबंधों (Strict Restrictions) की घोषणा की है। इसके अलावा रात का कर्फ्यू (Night Curfew) पहले से ही लगा हुआ है। फिर भी जलगांव शहर (Jalgaon City) में अनेक स्थानों पर नागरिक बिना किसी कारण के सड़कों पर घूम-फिर रहे हैं। ऐसे नागरिकों की अब खैर नहीं है। पुलिस प्रशासन (Police Administration) ने सड़कों पर निकलने वाली भीड़ पर काबू पाने के लिए नई तरकीब निकाली है। सड़कों पर घूमने वालों का एंटीजन टेस्ट (Antigen Test) कराना शुरू कर दिया है। 

    पुलिस अधीक्षक डॉक्टर प्रवीण मुंडे ने स्वयं मंगलवार की बीती रात को सड़क पर उतर कर लोगों को पकड़ा और उनका एंटीजन टेस्ट कराया। इनमें एक भी व्यक्ति पॉजिटिव नहीं मिला है। एसपी ने कहा कि यदि कोई पॉजिटिव मिलता है तो उनको सीधे क्वारंटाइन सेंटर भेजा जाएगा।

    बिना कारण कर रहें सड़कों, बाजारों में भीड़

    बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए राज्य में कर्फ्यू लगा दिया गया है। पखवाड़े तक तालाबंदी रहेगी। इसके अलावा पिछले कुछ दिनों से रात में बाहर जाने पर प्रतिबंध है। फिर भी कई लोग बिना कोई ठोस कारण से सड़कों और बाजारों में भीड़भाड़ कर रहे हैं। जिला पुलिस अधीक्षक डॉ. प्रवीण मुंडे के आदेशानुसार कर्फ्यू के दौरान सड़कों पर घूमने वाले नागरिकों को पकड़ कर उसी स्थान पर रैपिड एंटीजन परीक्षण शुरू किया गया है।

    भीड़ पर अंकुश लगाने की उम्मीद

    भुसावल और जलगांव शहर में कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित मरीज हैं। इसके बावजूद दोनों शहरों में बड़े पैमाने पर नागरिक घरों से बहार निकल कर सड़कों और बाजारों में भीड़ जमा कर रहे हैं। पुलिस प्रशासन ने लोगों की भीड़ कम करने अब सड़कों और चौराहों पर एंटीजन टेस्ट शुरू किया है, जिसके चलते नागरिकों में डर का माहौल है कि पता नहीं टेस्ट में कौन पॉजिटिव निकल आए, इस डर के कारण कुछ हद तक भीड़ पर अंकुश लगाने की उम्मीद एसपी मुंडे ने व्यक्त की है।

    सड़कों पर पुलिस की नाकाबंदी

    मंगलवार की देर रात तक जलगांव शहर की अलग-अलग सड़कों पर पुलिस ने नाकाबंदी कर सड़कों पर मटरगश्ती करने वाले करीब 50 व्यक्तियों का कोरोना परीक्षण किया गया, जिसमें एक भी पॉजिटिव नहीं मिला है। पुलिस अधीक्षक मुंडे ने कहा कि अगर कोई सड़क पर घूमता हुआ व्यक्ति पॉजिटिव मिलता है तो उसे वहीं से क्वारंटाइन सेंटर में रवानगी होगी।