विवाहित महिला का ‘हाई वोल्टेज’ नाटक

  •  पेड़ पर चढ़कर आत्महत्या का प्रयास
  • पति से बेटी दिलाने की मांग 
  • पुलिस भी नहीं दे रही ध्यानः पीड़िता

जलगांव. पुलिस अधीक्षक कार्यालय में एक महिला ने पति से पीड़ित होकर पेड़ पर चढ़कर अनोखा आंदोलन किया. पुलिस की लापरवाही के कारण उसका पति उसकी बेटी उसके हवाले नहीं कर रहा. इस बात से नाराज होकर उक्त महिला ने पेड़ पर चढ़कर आत्महत्या करने की कोशिश की. अचानक एक इस घटना को लेकर पुलिस अधीक्षक कार्यालय में हड़कंप मच गया. बाद में पुलिस कर्मियों ने समझा कर उसे पेड़ से उतारने में सफलता प्राप्त की है.

पीड़ित महिला अश्विनी और पंकज अशोक पाटील निवासी विरवाडे तालुका चोपडा दोनों का विवाह 2017 में हुआ था. पति पंकज पुणे की एक निजी कंपनी में कार्यरत है. शादी के कुछ दिनों बाद, पंकज और उसके परिवार ने  2 लाख रुपये लाने के लिए परेशान करना शुरू कर दिया.उसके बाद भी पैसे की मांग जारी रही. इस बीच, पीड़िता ने एक बेटी को जन्म दिया.उसके बाद जब पीड़ित महिला के पिता पुणे उसके ससुराल गए तो उन्होंने उसके पिता से बहस की. पीड़िता से उसकी बेटी को छीन कर घर से भगा दिया. 

दोनों में समझौता कराने की कोशिश

इस कारण पीड़ित ने तहसील पुलिस में पति पंकज अशोक पाटील, सास रेखा अशोक पाटील, ससुर अशोक विश्राम पाटील और जेठ प्रदीप अशोक पाटील के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई थी. कोर्ट ने 3 मर्तबा संबंधित व्यक्तियों को नोटिस जारी किया. किंतु वे लोग कोर्ट में हाजिर नहीं हुए और पुलिस द्वारा किसी भी प्रकार की मदद नहीं की गई और बेटी भी नहीं दिलाई गई. इस बात से नाराज होकर अश्वनी ने पेड़ पर चढ़कर फांसी लगाने की कोशिश की थी. जिला पेठ थाना प्रभारी अधिकारी अकबर पटेल ने दोनों पक्षों को बुलाकर समझौता कराने की कोशिश की है.