Mini lockdown did not show any effect, crowds appeared like normal days in the markets

    धुलिया. कोरोना संक्रमण (Corona Infection) की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए बुधवार रात से 15 दिनों का कोरोना कर्फ्यू लगा दिया गया है। सख्त प्रतिबंधों (Strict Restrictions) के बीच लॉकडाउन (Lockdown) के पहले दिन गुरुवार की सुबह बाजारों में आम दिनों की तरह भीड़ दिखाई दी। सब्जी तथा अन्य रोजमर्रा की सामग्री खरीदने के लिए बड़े पैमाने पर भीड़ नगर के बाजारों में उमड़ी थी। इसे काबू में करने के लिए पुलिस (Police) ने सब्जी विक्रेताओं को एक कतार में दूरी बनाकर कारोबार करने की अनुमति दी थी।

    लॉकडाउन का नजारा देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग सुबह से ही शहर के विभिन्न क्षेत्रों में सड़कों पर निकले थे। एक तरह से लोग नियमों को ठेंगा दिखा रहे थे। वहीं, प्रशासन भी गाइडलाइंस के कारण उलझनों का शिकार दिखाई दिया। किसे पकड़ें, किसे छोड़ें, इस स्थिति में पुलिस दिखाई दी। सड़कों पर निकलने वाले नागरिकों के पास सैकड़ों बहाने थे।

    रोज की तरह खुली रहीं दुकानें 

    धुलिया में अधिकांश दुकानें रोजमर्रा की भांति खुली हुई थीं। चाय और नाश्ते की दुकानों पर खुलेआम लोगों ने नाश्ते का आनंद लिया, जबकि नियमानुसार पार्सल देने के आदेश की दिन-दहाड़े धज्जियां उड़ाई गयीं। इमरजेंसी के नाम पर प्रशासन ने अनेक दुकानों का खुले रखने की छूट दी है। इसी संभ्रम में अनेक स्थानों पर दुकानें खुली थीं, लेकिन सड़कों पर भीड़ जस की तस बनी हुई थी। आगरा रोड स्थित बड़े पुल के सामने पुलिस चौकी के पास भवन निर्माण का काम करने वाले मजदूरों का हुजूम रोजी-रोटी की तलाश में कोरोना नियमों का उल्लंघन कर बैठा हुआ था, जिसकी ओर पुलिस ने उदासीनता बरती।

    CM ने दिए सख्ती बरतने के निर्देश

    मिनी लॉकडाउन लगाने के बाद मुख्यमंत्री उद्धव  ठाकरे जिला कलेक्टर को सख्ती बरतने के निर्देश दिए थे। उन्होंने कहा कि जो नियमों का उल्लंघन करे, उसे दंडित करें। अगर कोई दुकानदार दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करता है तो उसे तत्काल प्रभाव से सील किया जाए। इस आदेश के बाद पुलिस बल दोपहर 12 बजे से सक्रिय होकर सड़कों पर आवारा मटरगश्ती करने वाले नागरिकों की खबर लेने में जुट गया। इस दौरान चालीसगांव रोड पुलिस ने लोकमान्य अस्पताल के पास कर्फ़्यू नियमों का उल्लंघन करने के आरोप में वाहन चालक और नागरिकों पर जुर्माना लगाने की कार्रवाई शुरू की। इसके चलते सड़कों पर मटरगश्ती करने वाले की संख्या में कमी देखी गई।

    मनपा कर्मचारियों को सख्ती बरतने डीएम ने दिया निर्देश 

    डीएम संजय राउत ने कहा कि 14 अप्रैल रात 8 बजे से 15 दिनों का राज्यव्यापी कोरोना कर्फ्यू (मिनी लॉकडाउन) लगा दिया गया है। इस दौरान आवश्यक सेवाओं को छोड़कर अन्य सभी पर प्रतिबंध रहेगा। डीएम यादव ने पुलिस अधिकारियों और मनपा कर्मचारियों को सख्ती बरतने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पुलिस कोरोना कर्फ्यू का कड़ाई से पालन कराएं। अगर कोई कर्फ्यू का उल्लंघन करते पाया जाता है, तो उसे दंडित करें। जिन दुकानों को कर्फ्यू के दौरान खोलने की अनुमति दी गई है, उनकी निगरानी करें और अगर वे लोग  कर्फ्यू के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करते पाए जाते हैं, तो जुर्माना लगाएं और तत्काल प्रभाव से दुकानों को सील कर दें।