Apply soon for recruitment in South East Central Railway

  • सुरक्षा को लेकर मध्य रेलवे की नई पहल
  • 24 विशेष ट्रेनों में कार्यक्रम शुरू

जलगांव. मध्य रेल ने यात्रा के दौरान महिला यात्रियों की संरक्षा एवं सुरक्षा प्रदान करने के लिए “मेरी सहेली” कार्यक्रम शुरू किया. मध्य रेलवे ने महिलाओं को एक सुरक्षित और आरामदायक यात्रा प्रदान करने के अपने निरंतर प्रयासों में “मेरी सहेली”  कार्यक्रम लॉन्च किया है. यह रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ), मध्य रेल द्वारा शुरू किया गया एक विशेष अभियान है, जो यात्रा के दौरान महिला यात्रियों को सुरक्षा प्रदान करेगा. यह कार्यक्रम रेलवे बोर्ड के दिशा-निर्देशों के तहत शुरू किया गया है.

स्टेशनों से लेकर ट्रेनों में रहेगी नजर

‘मेरी सहेली’ जैसा कि नाम से पता चलता है कि महिला यात्रियों के एक निरंतर साथी / मित्र के रूप में काम करेगी, जो न केवल ओरिजिनेटिंग स्टेशन पर बल्कि ट्रेन में और गंतव्य स्टेशन पर भी अपनी सुरक्षा सुनिश्चित करेगी. इस ऑपरेशन के तहत, महिला अधिकारी और कर्मचारियों की एक टीम विशेष रूप से बनाई गई है, जो सभी यात्री डिब्बों में जाएगी, जिसमें महिला कोच भी शामिल हैं और ट्रेन में यात्रा करने वाली महिला यात्रियों की पहचान करेगी.

हेल्पलाइन के बारे में टीम करेगी जागरूक

महिला यात्रियों के साथ बातचीत के दौरान टीम आरपीएफ सुरक्षा हेल्पलाइन नंबर 182, जीआरपी हेल्पलाइन नंबर 1512 के उपयोग के बारे में परामर्श और उन्हें अपडेट करेगी. संरक्षा और सुरक्षा के लिए अन्य सावधानियां बरती जानी चाहिए, जैसे कि अजनबियों से खाने को स्वीकार नहीं करना, केवल अधिकृत आईआरसीटीसी से भोजन खरीदना स्टाल आदि.

यात्रियों का विवरण नोट करेगी टीम

‘मेरी सहेली’ टीम नाम, पीएनआर / टिकट नंबर, कोच और बर्थ नंबर आदि जैसे यात्री विवरणों को भी नोट करेगी. इन विवरणों को एन-रूट मंडलों / जोनों को स्टेशन से गंतव्य स्टेशन तक साझा किया जाएगा. हाल्ट स्टेशनों पर तैनात “मेरी सहेली” टीम अपनी सुरक्षा और भलाई के बारे में पूछताछ करने के लिए महिला यात्रियों से भी मुलाकात करेगी. यात्रा अनुभव प्रतिक्रिया को बेहतर सेवा प्रदान करने के लिए कदम उठाने के लिए गंतव्य पर ले जाया जाएगा.

सकारात्मक प्रतिसाद

मध्य रेलवे आरपीएफ ने 24 विशेष ट्रेनों में “मेरी सहेली” कार्यक्रम शुरू किया है, जिसे भारी और सकारात्मक प्रतिसाद मिला है. इसमें मुंबई-नागपुर-मुंबई दुरंतो एक्सप्रेस, गोदान एक्सप्रेस, गोंदिया-मुंबई स्पेशल, मुंबई-हावड़ा एक्सप्रेस, पुणे-पटना स्पेशल और अन्य ट्रेनें शामिल हैं.

मध्य रेल हमेशा महिलाओं को एक सुरक्षित और आरामदायक यात्रा प्रदान करने में सबसे अग्रणी रहा है और “मेरी सहेली” महिला यात्रियों की सुरक्षा और संरक्षा सुनिश्चित करने के लिए समर्पित प्रयासों का एक और महत्वपूर्ण हिस्सा होगी.