राकां ने डीएम कार्यालय पर निकाला मोर्चा

  • प्याज के मुद्दे पर मैदान में कूदे राजनीतिक दल

जलगांव. प्याज के निर्यात से पाबंदी हटाने के लिए केंद्र सरकार को घेरने के लिए सभी राजनीतिक दल मैदान में कूद पड़े हैं. इस क्रम में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने शुक्रवार को केंद्र सरकार की नीतियों का विरोध दर्शा कर तत्काल प्याज निर्यात करने की मांग की है. निर्यात से बंधी हटाने की मांग का ज्ञापन जिलाधिकारी अभिजीत राऊत को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ग्रामीण जिला अध्यक्ष रवींद्र पाटिल ने सौंपा है.

प्याज को लेकर किसानों के आंदोलन के बाद अब राजनीतिक दलों के पदाधिकारी कार्यकर्ता भी इस आंदोलन में कूद पड़े हैं. कांग्रेस शिवसेना के बाद राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी सड़क पर उतर आई है. शुक्रवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के जिला अध्यक्ष रविंद्र पाटिल के नेतृत्व में भव्य मोर्चा का आयोजन किया गया. प्याज से निर्यात पाबंदी हटाने की मांग का ज्ञापन ज़िला प्रशासन को दिया गया.

किसानों को हो रहा भारी नुकसान

जिला अध्यक्ष रवींद्र पाटिल ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा प्याज के निर्यात पर अचानक प्रतिबंध लगाने से प्याज उत्पादकों को कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है. प्याज एक खराब होने वाली फसल है.अंतर्राष्ट्रीय बाजार में भारत से, विशेषकर महाराष्ट्र से, प्याज की  बहुत मांग है. प्याज का निर्यात किया जा रहा था जिसके चलते किसानों को अतिरिक्त पैसा मिल रहा था. प्याज के निर्यात पर प्रतिबंध से कीमतों में गिरावट आई है.  इससे किसानों को बड़ा नुकसान हुआ है. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के जिला अध्यक्ष पाटिल ने कहा कि निर्यात बंद करने से किसानों का नुकसान ही नहीं बल्कि विदेशी मुद्रा नहीं आने से देश का भी नुकसान हो रहा है.

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में खराब हो रहा देश का नाम

प्याज के निर्यात पर पाबंदी लगाने से अंतर्राष्ट्रीय बाजार में भारत की छवि धूमिल होगी. प्याज के निर्यात पर लगी रोक हटाई जाए, इस मांग का ज्ञापन सौंपते समय अल्पसंख्यक सेल प्रदेश अध्यक्ष हाजी गफ्फार मलिक, जिला समन्वयक विलास पवार, महानगराध्यक्ष अभिषेक पाटिल, प्रदीप बंडू भोले, सोपान पाटिल, संदीप पाटिल, दिव्या भोसले, अक्षय वंजारी, रोहित सोनवणे, अकील पटेल, पंकज बोरोले, पराग पाटिल, वाय . एस. महाजन, जयप्रकाश महाडिक, रोहन सोनवणे, ललित बागुल, मंगला पाटिल, काशिनाथ इंगले, संजय चव्हाण, अशोक सोनवणे उमेश नेमाडे, ऍड. ज्ञानेश्वर बोरसे, गणेश नन्नवरे, दिनेश जगताप, जयेश पाटिल आदि मौजूद रहे.