धन की कमी नहीं, दोगुनी गति से करें काम : खडसे

  • चुनाव में किए वादे पूरा करें जनप्रतिनिधि, जनता मांगती है हिसाब
  • 2.98 करोड़ अनुदान से सड़कों की मरम्मत
  • 87 फीसदी अमृत योजना की पाइपलाइन का काम पूरा

भुसावल. पूर्व मंत्री एकनाथराव खडसे ने कहा कि शहर में विकास कार्यों के लिए धन की कमी नहीं है, दोगुनी गति से काम करें. नागरिक अब जागरूक हो गए हैं. वे विकास कार्यों के बारे में जवाब मांगते हैं,  इसलिए चुनावों में किए गए वादों को पूरा करने के लिए नागरिकों की समस्याओं को हल करें. ऐसी अपील उन्होंने जनप्रतिनिधियों से की. भुसावल शहर में 2 करोड़ 98 लाख रुपए अनुदान से नगर की सड़कों की मरम्मत के कार्य का शुभारंभ करने के बाद खडसे उपस्थितों को संबोधित कर रहे थे.

सरदार वल्लभभाई पटेल की प्रतिमा के पास से 2 करोड़ 98 लाख रुपये की लागत से भुसावल शहर में सड़क मरम्मत कार्य किया जा रहा है. इस दौरान कार्यक्रम में प्रमुख अतिथि के तौर पर सांसद रक्षा खडसे, विधायक संजय सावकारे, नगराध्यक्ष रमण भोले, सभापति मुकेश पाटिल, मुख्याधिकारी संदीप चिद्रावार, प्राध्यापक सुनील नेवे, पूर्व प्रभारी नगराध्यक्ष युवराज लोणारी, नगरसेवक गिरीश महाजन, नगरसेवक पिंटू कोठारी, प्रा. दिनेश राठी, परीक्षित बरहाटे आदि उपस्थित थे.

तकनीकी कारणों से सड़क मरम्मत में देरी

उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए एकनाथराव खडसे ने कहा कि नगर की सड़कों की हालत काफी हद तक खराब हो गई थी. तकनीकी समस्या के कारण सड़क मरम्मत में  देरी हुई. अमृत योजना पूरी नहीं हुई थी, जिसके कारण सड़क योजना तब तक शुरू नहीं हो सकती थी. जिन वार्डो में अमृत योजना का कार्य पूरा हो गया है, उन वार्डो में  शासन स्तर पर सड़क मरम्मत के काम को मंजूरी दी गई है. ताकि खस्ताहाल सड़कों की समस्या से नागरिकों को राहत मिल जाए.

शीघ्र होगी सड़कों की समस्या हल

उन्होंने कहा कि जिस क्षेत्र में अमृत योजना जलमार्ग का निर्माण किया गया है, वहां सड़क की मरम्मत के कामों को मंजूरी देने के साथ ही सड़कों की समस्या हल हो जाएगी.

विधायक संजय सावकारे ने उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि नगरपालिका चुनावों में, शहर के नागरिकों को सड़कों, पानी की आपूर्ति, स्वच्छता और बिजली के चार मुद्दों पर आश्वासन दिया गया था.  लेकिन नागरिक सड़क की समस्याओं से त्रस्त थे.अमृत योजना के कार्यों के कारण शहर में गड्ढों की संख्या में काफी वृद्धि हुई है.

अब अमृत की पाइपलाइन का काम 87 फीसदी और अन्य काम 47 फीसदी पूरा हो गए हैं.अब उन सड़कों का नवीनीकरण किया जाएगा, जहां पाइपलाइन बिछाई गई है.अमृत योजना पाइप लाइन के कारण शहर में सड़क के काम रुके हुए थे.

सक्षम अधिकारियों के अभाव लटका रहा कार्य

ऐसे में ठेकेदारों को बदलना मुश्किलों भरा था. नगरपालिका में सक्षम अधिकारी नहीं थे जिसके कारण नगर का विकास रुका हुआ था.अब सक्षम मुख्याधिकारी मिलने से नगर में 25 करोड़ रुपये के कार्यों की उन्होंने मंजूरी दी है.

जनता अब जागरूक हो चुकी है. उसे बहकाना मुश्किल है. इसलिए जनप्रतिनिधियों को चुनाव के दौरान किए गए वादों को पूरा करने का प्रयास करना चाहिए. यदि विकास कार्य नहीं हुए तो दोबारा चुनाव मैदान में उतरने पर जनता साथ नहीं देगी.

-एकनाथ खडसे, पूर्व मंत्री

 शहर की प्रमुख सड़कों की समस्या अब हल हो गई है और जल्द ही सड़क का काम शुरू हो जाएगा. अमर स्टोर से रेलवे स्टेशन तक की सड़क रेलवे सीमा के भीतर है. इसकी मरम्मत नहीं की जा सकती. रेलवे के डीआरएम से इस मुद्दे पर चर्चा की जाएगी.

 -रक्षा खडसे, सांसद