Corona Updates: In Arunachal Pradesh, the number of corona infected increased to 32,692, 209 new cases were reported in the last 24 hours
File Pic

    जलगांव. जिला प्रशासन द्वारा कोरोना (Corona) की दूसरी लहर (Second Wave) को रोकने के किए गए विभिन्न उपायों के कारण जलगांव जिले (Jalgaon District) में कोरोना मरीजों (Corona Patients) की संख्या 11,813 से आधी से भी कम  5,915 हो गई है।  वहीं पिछले कुछ दिनों से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है।  नागरिक सजग रहें, कोरोना नियमों का पालन करते रहें। इस तरह की अपील जिला कलेक्टर अभिजीत राउत ने की है। जिले का संक्रमित रिकवरी रेट 94% हो गया है। कोरोना के कम होते मामलों से जिला प्रशासन और नागरिकों ने राहत की सांस ली है।

    जिले में पहली लहर में सक्रिय मरीजों की संख्या लगभग 12,000 हो गई थी। हालांकि, राज्य सरकार और जिला प्रशासन द्वारा लागू किए गए ‘मेरा परिवार, मेरी जिम्मेदारी’ अभियान और पालकमंत्री गुलाबराव पाटिल के मार्गदर्शन में संदिग्ध मरीजों की खोज अभियान, सभी जनप्रतिनिधियों और सामाजिक संगठनों के सहयोग से पहली लहर का कुशलतापूर्वक सामना किया गया था।  पहली लहर  के समय जिले में सक्रिय मरीजों की संख्या फरवरी, 2021 तक 12,000 से घटकर 304 हो गई थी, लेकिन फरवरी के अंतिम सप्ताह में दूसरी लहर ने दस्तक दे दी।  इस लहर में रोजाना हजारों की संख्या में संक्रमित मरीज विभिन्न स्थानों से मिले। 1 अप्रैल, 2021 को जिले में संक्रमित मरीजों की संख्या 11,813 के उच्च स्तर पर पहुंच गई थी।

    अब तक 1,39,827 लोग हुए पीड़ित

    सरकार ने ‘ब्रेक द चेन’ के तहत जिले की कोरोना पाबंदियां और कड़ी कर दी। साथ ही संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए लोगों के स्वैबों के साथ-साथ कोरोना के संदिग्ध लक्षणों वाले मरीजों के भी टेस्ट किए गए। परिणामस्वरूप, संक्रमित रोगियों का शीघ्र पता लगाने और उनका समय पर उपचार करने से न केवल मरीजों के ठीक होने की दर बढ़ी, बल्कि मृत्यु दर को भी रोकने में सफलता मिली।  जिले में फिलहाल 5 हजार 915 एक्टिव मरीज हैं। जिले में अब तक 11 लाख 50 हजार 783 संदिग्धों के स्वैब जांच के लिए प्रयोगशाला में भेजा जा चुका है।  इसमें से 1 लाख 39 हजार 827 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जबकि 10 लाख 7 हजार 925 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। 

    जिले में 4,722 मरीज होम क्वारंटाइन

    जिले में फिलहाल 4,722 मरीज होम क्वारंटाइन हैं। 212 मरीज आइसोलेशन वार्ड में हैं। जिले में इस समय इलाज करा रहे 5 हजार 915 सक्रिय मरीजों में से 4 हजार 906 मरीजों में कोई लक्षण नहीं है और 1 हजार 9 मरीजों में लक्षण हैं।