Pachora-Bhadgaon roads will be transformed, fund of Rs 5 crore will be spent

    पाचोरा. विधायक किशोर पाटील के अथक प्रयास से निर्वाचन क्षेत्र में सड़कों (Roads) के लिए पांच करोड़ रुपये का अनुदान सरकार ने मंजूर किया है।  इस अनुदान से भड़गांव और पाचोरा तहसील (Pachora Tehsil) की सड़कों की कायापलट होगी और इसका लाभ सीधा किसानों को मिलेगा।  कम समय में किसानों की उपज मंडी में पहुंचेगी।  इस तरह की आशा विधायक किशोर पाटील (MLA Kishore Patil) ने प्रकट किया है। 

    विधायक किशोर पाटील ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार की महत्वाकांक्षी  योजना 25-15 बुनियादी सुविधा योजना के तहत पाचोरा भड़गांव निर्वाचन क्षेत्र के विभिन्न गांवों को जोड़ने वाली विभिन्न सड़कों के लिए 5 करोड़ रुपये की राशि स्वीकृत की गई है।  

    जल्द ही जारी होगी निविदा

    जल्द ही इस काम के लिए निविदा जारी की जाएगी और काम शुरू किया जाएगा।   विधायक किशोर अप्पा पाटिल ने कहा कि इन कार्यों से संचार सुविधा में तेजी आएगी, जिससे निर्वाचन क्षेत्र के विकास में मदद मिलेगी।  इस अनुदान से निर्वाचन क्षेत्र की सड़कों की हालत बदलेंगे, जिसमें पाचोरा तालुका में तारखेडा बु से सड़क निर्माण के लिए दस लाख रुपये का प्रावधान किया गया है। 

     मार्गों के लिए मंजूर की गई निधि

    निंभोरी-तांडा सड़क निर्माण 10 लाख, वाड़ी दस लाख, शेवाले बीस लाख, अंतुर्ली बु बीस लाख, सातगांव डोंगरी दस लाख, वानेगांव दस लाख, दुसखेडा दस लाख, वरसाडे दस लाख, डोकलखेडा दस लाख, लोहारी बीस लाख अटळगव्हाण दस लाख, कोल्हे दस लाख, गहुले दस लाख,  वडगांव  दस लाख, बदरखे दस लाख, लासगांव दस लाख  ,खडकदेवला दस लाख, हडसन  दस लाख, पुनगांव बीस लाख, भोकरी के लिए दस लाख का अनुदान मंजूर हुआ है। इसी तरह से भडगांव तालुका में पथराड गांव में सड़क मार्ग निर्णय के लिए दस लाख , पांढरद बीस लाख,घुसर्डी बीस लाख ,बाम्बरूड में दस लाख ,मलगांव दस लाख ,वडगांव बु सती बीस लाख,भोरटेक दस लाख ,नावरे दस लाख ,वाडे दस लाख, गुढे दस लाख ,निंभोरा बीस लाख, वाक बीस लाख, गोंडगांव बीस लाख, पिचर्डे दस लाख का अनुदान सड़कों के लिए मंजूर हुआ है। 

    निधि मंजूरी में मंत्रियों की भी अहम भूमिका

    पांच करोड़ रुपये का अनुदान मंजूर करने पर विधायक किशोर पाटील ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, उपमुख्यमंत्री अजीत पवार का आभार व्यक्त किया है और उन्होंने कहा कि अनुदान को मंजूर कराने में ग्रामीण विकास मंत्री हसन मुश्रीफ, राज्य मंत्री अब्दुल सत्तार, मंत्री गुलाबराव पाटील ने अहम भूमिका निभाई है।