People are not serious about lockdown, Now police is keeping watch with the help of drones

    ‍‍वाहिद काकर

    जलगांव. कोरोना नियमों का उल्लंघन कर बिना कारण घूमने और भीड़ करने वाले नागरिकों से निपटने के लिए पुलिस प्रशासन (Police Administration) ने ड्रोन कैमरे का सहारा लेना शुरू कर दिया है। ड्रोन कैमरे (Drone Cameras) से विभिन्न क्षेत्रों में नागरिकों पर नजर रखी गई। कोरोना (Corona) के बढ़ते संक्रमण के चलते संपूर्ण जिले को 60 घंटे के लिए लॉकडाउन (Lockdown) किया गया है, ताकि आमजन इसके संक्रमण से बच सकें। 

    वहीं, यदि कोई संक्रमित व्यक्ति हो तो उसके संपर्क में दूसरा व्यक्ति न आ सके, इसके लिए सैकड़ों तरह के उपाय प्रशासन द्वारा बताए जा रहे हैं एवं दैनिक उपयोग की व्यवस्थाएं भी इस तरह बनाई गई हैं ताकि आवश्यक सामग्री घरों तक पहुंच सके। अभी तक किसी भी आवश्यक सेवा एवं सामग्रियों की कमी नजर नहीं आई है और घरों में बकायदा सामग्रियां मौजूद होने के बावजूद भी लोग घरों से बाहर निकलने में कोई संकोच नहीं कर रहे हैं।

    अपनी इच्छानुसार कर रहे लॉकडाउन का पालन

    वे लॉकडाउन का पालन अपनी इच्छा अनुसार ही करते नजर आ रहे हैं। आमजनों की इसी लापरवाही के कारण अब पुलिस ने सोमवार से ड्रोन कैमरे की मदद लेनी शुरू की है। अब ड्रोन से निगरानी शुरू कर दी गई है। जनता कर्फ्यू के दूसरे दिन सड़कों पर बड़ी संख्या में नागरिक मोटरसाइकिल पर दिखाई दिए। ऑटोरिक्शा भी सरपट सड़कों पर दौड़ते दिखाई दिए। पुलिस के रोकने पर नागरिकों ने विभिन्न कारण बताकर पुलिस के चंगुल से बचते नजर आए। किंतु नागरिकों के इस तरह निकलने से सड़कों पर भीड़ बनी हुई है। दुकानें तो बंद हैं, लेकिन नागरिकों का आवागमन जस का तस बना हुआ है। उदासीनता के कारण जनता कर्फ्यू के दूसरे दिन सोमवार को नागरिकों का बंद को समर्थन नहीं मिला।

    लापरवाह लोगों पर पुलिस करेगी कार्रवाई

    रंगपंचमी के कारण जलगांव शहर में बड़े पैमाने पर लोग एक इलाके से दूसरे इलाके में रंग खेलने जाते हैं। लोगों के आने-जाने पर प्रतिबंध लगाने के लिए पुलिस विभाग ने शहर पर ड्रोन कैमरे से नजर रखी। घरों की टेरिस और मोहल्लों में नियमों का उल्लंघन कर रंग खेलने वालों पर कार्रवाई करने के लिए सोमवार की सुबह भीलपुरा पुलिस चौकी के पास से शहर के विभिन्न इलाकों पर पुलिस ने नजर रखी। कैमरे में आने वाले लोगों पर कार्रवाई करने के निर्देश अपर पुलिस अधीक्षक चंद्रकांत गवली ने दिए हैं।

    ड्रोन का संपर्क टूटा

    सुबह 11 बजे के करीब भीलपुरा पुलिस चौकी के पास से हवाई सर्वेक्षण करने के लिए ड्रोन कैमरे को छोड़ा गया। इस दौरान निर्धारित सीमा से अधिक ऊंचाई पर जाने के कारण तकनीशियन की पहुंच से करीब 20 मिनट तक ड्रोन का संपर्क टूट गया। तकनीशियन ने तत्काल ऊंची इमारतों पर चढ़कर ड्रोन को काबू में किया।

    सुबह-शाम एकत्र हो रहे लोग

    जनता कर्फ़्यू के दौरान दोपहर में तो जैसे-तैसे लोग घरों में रहकर टीवी, मोबाइल या अन्य मनोरंजक खेलों के माध्यम से अपना समय बिता रहे हैं, लेकिन सुबह होते ही मोहल्लों तथा सड़कों पर लोग नजर आने लगते हैं। वहीं शाम होते ही जगह-जगह बिना सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किए लोगों की भीड़ बातचीत करने जमा हो जाती है। जिन पर किसी तरह की प्रशासनिक सख्ती नहीं दिखाई देती है।

    घूमते नजर आ रहे नागरिक

    कोरोना के खतरे को नजरअंदाज करते हुए लोग बिना कार्य के अनावश्यक ही घूम रहे हैं। हालांकि पुलिस प्रशासन इस बात का पूरा ध्यान रखे हुए हैं और सड़कों पर उतरकर आमजनों को समझा रहे हैं और अनावश्यक घूमने वालों पर कार्रवाई भी कर रहे हैं। पुलिस के सड़कों से हटते ही लोग जनता कर्फ़्यू का उल्लंघन करते नजर आ रहे हैं। रोकने पर इनके पास अस्पताल, बैंक और भोजन पार्सल लेने के बहाने हैं। इसके चलते लोग लॉकडाउन के दूसरे दिन सड़कों पर पर्याप्त मात्रा में यातायात करते दिखाई दिए।