कवि बहिनाबाई चौधरी विश्वविद्यालय ने वर्क फ्रॉम होम का लिया गया फैसला

  • 1 दिन छोड़ कर्मी आएंगे विश्वविद्यालय 

जलगांव. राज्य में कोरोना संक्रमण के बढ़ने के कारण राज्य सरकार ने लॉक डाउन की अवधि 31 अगस्त तक बढ़ा दी है. विश्वविद्यालय और कॉलेज में सीमित कर्मचारी दैनिक कार्य के लिए उपस्थित रहेंगे. इस तरह की जानकारी कवयित्री बहिणाबाई चौधरी उत्तर महाराष्ट्र विश्वविद्यालय से संबंधित महाविद्यालय को सूचित किया गया है.

कवि बहिनाबाई चौधरी उत्तरी महाराष्ट्र विश्वविद्यालय के तहत जलगांव, धुलाई और नंदुरबार जिलों में कॉलेजों और संस्थानों से संबद्ध है. देश में कोरोना का प्रभाव कम नहीं हुआ है. इस वर्ष शिक्षा नीति बदल गई है.

कालेज खोलने का निर्णय

 स्कूल और कॉलेज शुरू करने के बारे में अनिश्चितता है और अब विश्वविद्यालय ने एक कॉलेज खोलने का भी फैसला किया है.प्रभारी कुल सचिव  बी  वी  पवार न एक परिपत्र जारी कर कहा है कि राज्य सरकार के निर्देश के अनुसार लॉकड़ाउन की अवधि 31 अगस्त तक बढ़ा दी गई है. परिपत्र में कहा गया है कि शिक्षकों को घर पर रह कर इस अवधि के दौरान काम करना है.साथ ही, इस अवधि के दौरान, सभी अधिकारी और कर्मचारी मुख्यालय छोड़े नहीं घर से आवश्यक कार्यालय कार्य करने का निर्देश दिया गया है.

आनलाइन कार्यों पर जोर

 उत्तर महाराष्ट्र विश्वविद्यालय ने ऑनलाइन कार्यों पर जोर दिया है.शिक्षकों और शोधकर्ताओं द्वारा ऑनलाइन सामग्री विकसित करना ऑनलाइन शिक्षण और मूल्यांकन, अगले शैक्षणिक वर्ष के लिए शैक्षिक सामग्री तैयार करना अनुसंधान लेखों पर कार्रवाई करने इस अवधि का उपयोग प्रश्नावली तैयार करने, नवीन परियोजनाओं की तैयारी के साथ-साथ शिक्षकों के लिए उत्तर पुस्तिकाओं की जांच करने, परिणाम प्रकाशित करने, ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया पर काम करने परिपत्र में कहा गया है.