पुलिस ने 3 आरोपियों पर कसा शिकंजा

मुक्ताईनगर पूर्व सभापति पाटिल हत्या मामला

राजनीतिक रंजिश के चलते कसाई से कराई थी हत्या 

जलगांव. पुलिस ने मुक्ताईनगर पंचायत समिति के पूर्व सभापति युवा पाटिल के हत्याकांड के तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है. इस  हत्या के मामले का पुलिस ने खुलासा किया है. राजनीतिक दुश्मनी निकालने के लिए पाटिल की हत्या एक चिकन कसाई से कराने का सनसनीखेज खुलासा पुलिस ने किया है.

मुक्ताईनगर पंचायत समिति के पूर्व सभापति तथा कुऱ्हा निवासी डी.ओ. पाटिल की स्थानीय राजनीति में गहरी पैठ थी. उनके हस्तक्षेप करने से विरोधियों की राजनीति में रुकावट आती थी, जिससे विरोधियों ने रास्ते का कांटा निकालने के लिए हत्या की योजना बनाई.

ढाई लाख में दी गई थी हत्या की सुपारी

एक चिकन विक्रेता कसाई को ढाई लाख रुपए में हत्या की सुपारी दी गई. यह सुपारी  सय्यद शाबीर सय्यद शफी को कुऱ्हा ग्राम पंचायत सदस्य तेजराव भास्कर पाटील विलास रामकृष्ण महाजन ने दी थी. पुलिस ने मास्टर माइंड समेत तीन व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया है, वहीं अन्य दोषियों को की तलाश में पुलिस जुटी है. गौरतलब है कि पूर्व सभापति दिनकर ओंकार पाटील की पुरानी राजनीतिक रंजिश के चलते 17 जून तड़के 3 से 3.30 बजे के बीच तेजधार हथियार छुरे से  गला काटकर  हत्या कर दी गई थी.

जांच में जुटी है स्थानीय पुलिस

पुलिस ने शनिवार की देर शाम  मध्यप्रदेश के बुरहानपुर से संदिग्ध हत्या के आरोपी को गिरफ्तार किया. वहीं हत्या का मास्टरमाइंड पंचायत समिति सदस्य और एक किसान को संदेह के आरोप में तेजराव पाटील, विलास महाजन व सय्यद शाबीर को गिरफ्तार किया या है