Steps should be taken to deal with the third wave, Minister Padvi said in Corona's review meeting

    नंदुरबार. कोरोना संक्रमण (Corona Infection) की समीक्षा बैठक को संबोधित करते हुए आदिवासी कल्याण मंत्री के सी पाडवी (KC Padvi) ने अधिकारियों से कहा कि कोरोना (Corona) की तीसरी लहर (Third Wave) संभावित है। इसमें बड़े पैमाने पर चक्र मंकी फैलने की आशंका को देखते हुए प्रशासन आवश्यक एहतियाती कदम उठाए। पालक मंत्री पाडवी ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर का प्रकोप छोटे बच्चों पर आने की संभावना जताई जा रही है। इसके चलते बच्चों के इलाज के लिए अभी से जरूरी सुविधाएं बनाएं। 

    ब्लैक फंगस मरीज के इलाज के लिए स्वतंत्र वार्ड बनाएं। ग्रामीण इलाकों में वैक्सीनेशन को लेकर अभी भी उदासीनता है। ग्रामीण में वैक्सीनेशन की संख्या बढ़ाने के लिए व्यापक पैमाने पर जनजागृति करें। 

    ग्रामीण इलाकों में बढ़ाएं वैक्सीनेशन

    पालक मंत्री पाडवी ने कहा कि नियमों का उल्लंघन करने वाले तथा बेवजह सड़कों पर घूमने वाले नागरिकों का कोरोना परीक्षण कराएं। उन्हें इलाज के लिए कोविड सेंटरों में भर्ती करें। बाजार में भीड़ न लगे, इसका ध्यान रखा जाए। दूर-दराज के इलाकों में संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए जरूरी कदम उठाए जाएं। धन राशि निकालने और जमा कराने के साथ ही पेंशनभोगी बड़े पैमाने पर बैंकों में गर्दी कर रहे हैं। इससे निबटने के लिए बैंक के बाहर टेंट की व्यवस्था कर शारीरिक दूरी का पालन सुनिश्चित कराने का ध्यान रखा जाए। 

    बैंकों में होने वाली भीड़ को करें नियंत्रित

    उन्होंने कहा कि ख्वाटी अनुदान योजनान्तर्गत धनराशि वितरण की प्रतिदिन समीक्षा की जाए। जिला कलेक्टर डॉ. राजेंद्र भारुड ने प्रशासन द्वारा उठाए गए कदमों की जानकारी मंत्री पाडवी को दी। उन्होंने कहा कि प्रशासन टीकाकरण के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में व्यापक जागरूकता शिविर आयोजित कर रहा है। इस समीक्षा बैठक  में सांसद डॉ. हिना गावित, विधायक राजेश पाडवी, शिरीष नाईक, डीएम डॉ. राजेंद्र भारुड, मुख्य कार्यकारी अधिकारी रघुनाथ गावडे, पुलिस अधीक्षक महेंद्र पंडित एवं अन्य मौजूद थे।