Survey every house to prevent corona havoc

    धुलिया. जिले में बढ़ते कोरोना (Corona) कहर की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन (District Administration) ने कमर कस ली है। इसी के तहत विभिन्न उपायों की समीक्षा करने के लिए जिला अधिकारी संजय यादव (Sanjay Yadav) की उपस्थिति में एक बैठक का आयोजन किया गया। डीएम ने इस बैठक को संबोधित करते हुए हर तहसील के अधिकारियों को  ‘मेरा परिवार, मेरी जिम्मेदारी’ अभियान की तर्ज पर हर घर का सर्वेक्षण (Survey of Every House) करने का निर्देश दिया। जिले में कोरोना वायरस से प्रभावित रोगियों की संख्या में वृद्धि गंभीर मामला है। 

    डीएम ने निर्देश दिया है कि मरीजों को समय पर उपचार दिलाने के लिए परीक्षणों की संख्या बढ़ाएं। होम आइसोलेशन मरीजों को नजदीकी कोविड सेंटर में भर्ती कराएं और सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन और मास्क नहीं पहने वालों पर कड़ी कार्रवाई करें।

    केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग ने भी लगाई फटकार

    जिले में कोरोना वायरस बड़े पैमाने पर फैल रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग ने भी जिला प्रशासन को फटकार लगाई है। दिन-ब-दिन पॉजिटिव मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है।  जिलाधिकारी संजय यादव ने कहा कि जिले में कोरोना वायरस के मरीजों के साथ-साथ सकारात्मकता की दर भी बढ़ी है।  इस पर केंद्र सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने ध्यान दिया है। अब उनके निर्देशानुसार उपाय किए जाएंगे। प्रभावित इलाकों में कन्टोन्मेन्ट ज़ोन का कड़ाई से पालन कराया जाए। बिना मास्क के चलने वालों के खिलाफ राजस्व और स्थानीय प्रशासन संयुक्त कार्रवाई कर नियमों का उल्लंघन करने वालों को दंडित करे। नागरिकों को बीमार करने से रोके तथा भीड़भाड़ वाले स्थानों पर अधिकारी पहुंचकर कोविड कानून की धज्जियां उड़ाने वालों पर सख्ती से कार्रवाई करने के निर्देश भी जिलाधिकारी है।

    समारोहों में निर्धारित संख्या का पालन हो

    कोविड केयर सेंटर, डेडिकेटेड कोविड स्वास्थ्य केंद्र को सक्रिय कर मरीजों को जरूरी सुविधाएं मुहैया कराई जाएं। यादव ने कहा कि विवाह समारोह में यदि निर्धारित संख्या से अधिक लोग दिखाई दें तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। एक मरीज पॉजिटिव मिलने के बाद उसके संपर्क में आए 20 व्यक्ति की तुरंत जांच कराई जाए। चारों तहसीलों के अनुविभागीय अधिकारी को निर्देश देते हुए जिलाधिकारी संजय यादव ने कहा कि बुखार क्लीनिक शुरू करके उनकी संख्या बढ़ाएं।  अनुविभागीय अधिकारी अपने क्षेत्रों में निरीक्षकों की नियुक्ति करें और दैनिक रिपोर्ट प्रस्तुत करें। रैपिड रिस्पांस टीम का गठन कर इसके लिए अधिकारियों और कर्मचारियों को वहां नियुक्त कर कंट्रोल रूम को सक्रिय किया जाए। अनुविभागीय अधिकारी जोनल अधिकारियों को निर्देश दें और सतर्कता रखें।

    समीक्षा बैठक में यह अधिकारी थे शामिल

    इस अवसर पर जिला परिषद मुख्य कार्यकारी अधिकारी वान्मथी सी, पुलिस अधीक्षक चिन्मय पंडित, महानगरपालिका आयुक्त अजीज शेख, भाऊसाहेब हिरे शासकीय वैद्यकीय महाविद्यालय अधिष्ठाता डॉ. पल्लवी सापले, अपर जिलाधिकारी दिलीप जगदाले, अनुविभागीय अधिकारी भीमराज दराडे (धुलिया), डॉ. विक्रम बांदल (शिरपुर), कोरोना नोडल अधिकारी तथा उप जिलाधिकारी श्रीकुमार चिंचकर, सुरेखा चव्हाण, जिला शल्यचिकित्सक डॉ. माणिक सांगले, जिला परिषद जिला आरोग्य अधिकारी डॉ. संतोष नवले, जिला योजना अधिकारी ममता हटकर, महानगर पालिका उपायुक्त गणेश गिरी, वैद्यकीय अधिकारी डॉ. महेश मोरे, डॉ. दीपक शेजवल एवं अन्य उपस्थित थे।

    जिले में संक्रमण तेजी से फैल रहा है। ऐसे में नागरिक सावधानी बरतें। कोरोना नियमों का पालन करें। भीड़भाड़ वाले स्थानों पर ना जाएं। आवश्यकता होने के बाद ही घर से निकलें। सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाए रखें। माहौल का जायजा लेने के लिए अगले सप्ताह मनपा आयुक्त पुलिस अधीक्षक के साथ खुद सड़क पर उतरेंगे और नियमों के पालन के लिए सख्ती से कार्रवाई की जाएगी।

    -संजय यादव, जिलाधिकारी