Surwada forest fire should be investigated

    भुसावल. जलगांव युवा कांग्रेस (Jalgaon Youth Congress)के जिला अध्यक्ष हितेश पाटिल ने बोदवड़ तालुका के गोलेगांव सर्कल में सुरवाड़ा क्षेत्र के जंगल (Forest) में लगी आग (Fire) के संबंध में जांच समिति नियुक्त किए जाने और वन पाल और वन संरक्षक के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।  युवा कांग्रेस के जिलाध्यक्ष प्रा. हितेश  पाटिल ने जिला कलेक्टर अभिजीत राऊत को एक ज्ञापन (Memorandum) सौंपा, जिसमें मांग की गई है कि बोदवड़ तालुका के गोलेगांव सर्कल में सुरवाड़ा क्षेत्र 504 में आग के संबंध में जांच समिति नियुक्त किए जाने और वनपाल और वनसंरक्षक के खिलाफ कार्रवाई जांच करने और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।

    14 मार्च को वन कर्मियों द्वारा सड़क के दोनों किनारों पर आग लगने के कारण एक अप्राकृतिक मानव निर्मित आग लगाई  गई थी। वन विभाग द्वारा लगभग 8 हेक्टेयर जंगल में आग लगने की जानकारी दी गई। इस आग में घास, जंगली गेंदा फूल आराटी, तुलसी, जलने से हजारों का नुकसान हुआ है लेकिन इस रिपोर्ट में कहीं भी जले हुए पेड़ों का उल्लेख नहीं है। 

    गलत रिपोर्ट प्रस्तुत की

    इससे साफ नजर आता है कि वनपाल गवले, वनसंरक्षक डी. ए बेलदार ने गलत रिपोर्ट प्रस्तुत की है । इस मामले में मनमोडी मुक्तल और सुरवाड़ा के उप सरपंच ने उप वनसंरक्षक और जिला कलेक्टर को मुख्यालय में वनपाल और वन रेंजर की अनुपस्थिति के बारे में निवेदन प्रस्तुत किया। इस मौके पर  युवा कांग्रेस के जिला अध्यक्ष हितेश पाटिल, मुक्तल सरपंच जितेंद्र पाटिल, सुरवाड़ा खुर्द उपसरपंच निलेश शिंदे, मानमोडी सरपंच पति मोहन पाटिल, गजानन पाटिल, उमेश बिजागरे, नकुल कोली, नीलेश जावरे, गणेश पाटिल, अमोल व्यवहारे उपस्थित थे।