Work together to prevent road accident, Deputy Regional Transport Officer Kadam ordered

    धुलिया. पुलिस अधीक्षक कार्यालय में  सड़क दुर्घटना (Road Accident) रोकने के लिए अधिकारियों की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में जिले के विभिन्न स्थानों पर महामार्ग और शहरों में रेड जोन (Red Zone) और ब्लैक स्पॉट (Black spot) की पहचान की गई। नदी के पुलों पर सुरक्षा जाली लगाने के साथ अन्य विषयों पर ध्यान दिया गया। उप प्रादेशिक परिवहन अधिकारी राहुल कदम (Rahul Kadam) ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि सड़क दुर्घटना रोकने के लिए सभी विभाग मिलकर कार्य करें। सड़क पर पड़े गड्ढों का तत्काल सर्वे करें। ब्लैक स्पॉट की सूची बनाएं। 

    जिले में बढ़ती दुर्घटनाओं को रोकने के लिए आयोजित बैठक में कई तकनीकी पहलुओं सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गयी। अधिकारियों ने उपाय भी सुझाए। विशेष रूप से सावलदे जैसे पुलों का सर्वेक्षण करने व गड्ढों को भरने पर भी चर्चा की गई।

    दुर्घटनाएं रोकने अधिकारियों के साथ बैठक 

    परिवहन अधिकारी राहुल कदम ने कहा कि संबंधित विभाग सड़क पर दिशात्मक संकेत, गति सीमा संकेत स्पष्ट रूप से लगाए। हाईवे से जुड़ने वाली ग्रामीण सड़कों पर स्पीड ब्रेकर लगाएं। सावलदे नदी जैसे पुलों पर सुरक्षात्मक जाली लगाई जाए। धुलिया-बचालीसगांव रोड चौराहे पर यातायात अधिक होने के कारण वहां फ्लाईओवर या सब-वे बनाया जाए। इसी के साथ सड़क के पास के बेकार पड़े कुंओं को भरने के अलावा जहां मरम्मत कार्य चल रहा हो, वहां नोटिस बोर्ड लगाया जाना चाहिए।  सड़क के टी पॉइंट पर हिमैक्स लाईट्स लगवाएं। बार-बार यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले, शराब के नशे में वाहन चलाने वाले और हेलमेट नहीं पहनने वाले चालकों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए। अनेक स्थानों पर सड़क पर लगे ट्रैफिक सिग्नल को ठीक कर चालू करने को लेकर चर्चा की गई।

    बैठक में कई वरिष्ठ अधिकारी रहे उपस्थित

    इस बैठक में  जिला पुलिस अधीक्षक चिन्मय पंडित, अपर पुलिस अधीक्षक प्रशांत बच्छाव, शहर विभाग उपविभागीय पुलिस अधिकारी दिनकर पिंगले, साक्री मैराले, शिरपुर माने, राष्ट्रीय महामार्ग प्राधिकरण के रविंद्र हिंगोले, सार्वजनिक बांधकाम विभाग कार्यकारी अभियंता वर्षा घुगरी, महामार्ग सुरक्षा दल पुलिस निरीक्षक हेमंत भामरे, सारिका खैरनार, शिरपुर, शहर ट्रैफिक सहायक इंस्पेक्टर  संगीता राउत आदि अधिकारी मौजूद थे।