कुलगुरु ने की परीक्षाओं की समीक्षा

  • पदभार संभालते ही कोल्हापुर विश्वविद्यालय के कामकाज में लाई तेजी

कोल्हापुर. शिवाजी विश्वविद्यालय के नवनियुक्त कुलगुरु डॉ. डी. टी. शिर्के ने अपना पदभार संभालने के बाद अपने काम में तेजी लाई है. सबसे पहले उन्होंने परीक्षाओं के आयोजन की समीक्षा बैठक कर सभी से चर्चा की.

हाल ही में संभाला पदभार

गौरतलब है कि शिवाजी विश्वविद्यालय के कुलगुरु का पदभार डॉ. डी. टी. शिर्के ने हाल ही में संभाला है. उन्होंने कामकाज का पहला दिन बिंदुमाधव चौक में स्थित महात्मा ज्योतिबा फुले और भारतरत्न डॉ. बाबासाहब आंबेडकर को पुष्पहार अर्पण कर उन्हें अभिवादन किया. इसके बाद उन्होंने छत्रपति शिवाजी महाराज, राजर्षि शाहू महाराज, छत्रपति राजाराम महाराज, लोकनेता बालासाहब देसाई और करवीर संस्थान की संस्थापिका छत्रपति ताराराणी, विवेकानंद महाविद्यालय के परिसर में स्थित शिक्षामहर्षि बापूजी सालुंखे की प्रतिमाओं समेत स्मृतिस्तंभ को नमन किया. प्राचार्य डॉ. अभयकुमार सालुंखे ने डॉ. शिर्के का स्वागत किया.

परीक्षाओं के नियोजन की समीक्षा

डॉ. शिर्के ने विश्वविद्यालय में सबसे पहले परीक्षा और मूल्यांकन मंडल की बैठक आयोजित की और इसमें परीक्षाओं को लेने के संदर्भ में स्थिति की समीक्षा की. परीक्षा मंडल की ओर से की गई तैयारियों की उन्होंने जानकारी ली और परीक्षाओं को सूचारू कराने के संदर्भ में निर्देश दिए.

शहर में हुआ स्वागत

पदभार स्वीकार ने के बाद डॉ. शिर्के का जगह-जगह पर स्वागत हुआ. बिंदूमाधव चौक में केएमटी के अधिकारी और कर्मचारियों ने उनका स्वागत कर उनके आगे के कामकाज के संदर्भ में शुभकामनाएं दी. शिवाजी चौक में शिवशाहू मर्दानी आखाड़े के युवा कार्यकर्ताओं समेत रिक्षाचालक और आम लोगों ने डॉ. शिर्के का स्वागत किया.