जानें क्या है अमरूद और उसकी पत्तियों के फायदे, बताएं इसका लाभ

वैसे तो आप सर्दियों के मौसम में बहुत अमरुद खाते होंगे लेकिन क्या आप इसके फायदे जानते हैं। अमरुद ही नहीं उसकी पत्तियां भी आपको कई मायनों में फिट और हेल्दी रख सकती हैं। अमरूद का वनस्पति नाम

वैसे तो आप सर्दियों के मौसम में बहुत अमरुद खाते होंगे लेकिन क्या आप इसके फायदे जानते हैं। अमरुद ही नहीं उसकी पत्तियां भी आपको कई मायनों में फिट और हेल्दी रख सकती हैं। अमरूद का वनस्पति नाम ‘सीडियम ग्वायवा’ है जो कि लेटिन भाषा से है। वैज्ञानिकों का कहना है कि इस पेड़ की उत्पत्ति अमेरिका के उष्णकटीबंधीय भागों से हुई है। अमरूद गर्मियों और सर्दियों दोनों मौसम में बाजार में मिल जाता है।

विटामिन्स और मिनरल्स से भरपूर इस फल का सेवन आपको कई स्वास्थ्य समस्याओं से बचा सकता है और कई समस्याओं को ठीक करने में भी मदद करता है। अमरूद की पत्तियों में औषधीय गुण होते हैं। इनका अर्क कई स्वास्थ्य समस्याओं में आराम पाने में सहायक होता है। 

जाने अमरूद खाने के फायदे:

पाचन:अमरूद में डाइटरी फाइबर होता है जो पाचन तंत्र स्वस्थ रखने में मदद करता हैं। 1 अमरूद दिनभर की जरूरत का 12 प्रतिशत डाइटरी फाइबर देता है। फाइबर खाने को जल्दी और स्वस्थ रूप से पचाने में डाइजेस्टिव सिस्टम की मदद करते हैं। 

ब्लड शुगर कंट्रोल: अमरूद की पत्तियां टाइप-2 डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद होती हैं। इनसे बनी चाय पीने से खून में शुगर के स्तर को कंट्रोल किया जा सकता है। रिसर्च बताती हैं कि अमरूद की पत्तियों का रस या इनसे बनी चाय पीने से शरीर को इंसुलिन रेसिस्टेंस में मदद मिलती हैं जिससे ब्लड शुगर कंट्रोल होती है। अमरूद की पत्तियों का रस ग्लूकोस के अवशोषण में भी सुधार करता है।

पीरियड्स क्रैम्प्स कम: पीरियड्स के दौरान महिलाओं को पेट में ऐंठन, क्रैम्प्स और दर्द जैसी समस्याएं होती हैं। अमरूद की पत्तियों का एक्सट्रैक्ट पीरियड्स क्रैम्प को कम करने में मदद करता है। 197 महिलाओं पर की गई एक रिसर्च में पता लगा है कि अमरूद की पत्तियों का अर्क पीरियड्स क्रैम्प्स की इंटेन्सिटी को कम कर सकता है।

वजन: अगर आप वजन कम करने की सोच रहे हैं, या डाइट पर हैं तो अमरूद आपके वेट लॉस गोल्स को पूरा करने में मदद करेगा और आपके डाइट प्लान्स को खराब नहीं करेगा क्योंकि अमरूद में कैलोरी कम होती हैं साथ ही इसका सेवन आपको जल्दी भूख नहीं लगने देता जिससे आप जंक फूड्स खाने से बचते हैं।

ऑस्टियो आर्थराइटिस: अमरूद का सेवन ऑस्टियो आर्थराइटिस को रोगियों के लिए फायदेमंद हो सकता है। इसका सेवन हड्डियों के कार्टिलेज को सुरक्षित रखने में भी मदद करता है। चूहों पर की गई एक रिसर्च में पाया गया है कि अमरूद की पत्तियों का अर्क कार्टिलेज डेस्ट्रक्शन के खिलाफ मदद करता है। हालांकि यह रिसर्च अभी इंसानों पर करनी बाकी है। 

एंटी-कैंसर एजेंट्: अमरूद की पत्तियों का एक्सट्रैक्ट कैंसर सेल्स की ग्रोथ को रोकने में मदद करता है इसलिए अमरूद एक एंटी-कैंसर एजेंट के रूप में भी सहायक है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि अमरूद की पत्तियां में पाए जाने वाले कम्पाउंड्स एस्ट्रोजन रिसेप्टर्स मोड्यूलेटर्स (SERMs) के तौर पर काम करते हैं। SERMs एक प्रकार की ड्रग्स हैं जिनका इस्तेमाल कैंसर सेल्स की ग्रोथ को रोकने में किया जाता है।

स्किन: अमरूद में विटामिन और मिनरल्स की भरपूर मात्रा होती है। यह आपकी स्किन को कंडीशन और रेजुवेनेट करता है। इसके सेवन से स्किन की पोषण जरूरतें पूरी होती हैं और स्किन हेल्दी रहती है। आप अमरूद का जूस निकालकर या इससे स्मूदी बनाकर भी इसका सेवन कर सकती हैं। इससे स्किन और बॉडी दोनों को हाइड्रेट रखने में मदद मिलती है। अमरूद एंटी-ऑक्सीडेंट प्रॉपर्टीज होने के कारण भी फ्री-रेडिकल्स से लड़ने और शरीर से टॉक्सिन्स को बाहर निकालने में मदद करता है जिससे स्किन अंदर से भी साफ रहती हैं। 

नोट: अगर आप ब्रेस्टफीडिंग महिला हैं या प्रेगनेंसी में हैं तो आपको अमरूद के सप्लीमेंट्स का सेवन नहीं करना चाहिए। तब तक आप केवल अमरूद खा सकती हैं। अन्य सलाह के लिए अपने डॉक्टर से बात करें।