भिंडी का पानी करेगा डायबिटीज को कंट्रोल, जानें कैसे

भारत में पिछले कुछ सालों में डायबिटीज के मरीजों की संख्या में काफी इजाफा हुआ है। ये बीमारी आम होती लग रही है। आजकल सिर्फ बूढ़े ही नहीं, बल्कि युवा पीढ़ी भी तेज़ी से इसका शिकार हो रहें है। इसके इलाज

भारत में पिछले कुछ सालों में डायबिटीज के मरीजों की संख्या में काफी इजाफा हुआ है। ये बीमारी आम होती लग रही है। आजकल सिर्फ बूढ़े ही नहीं, बल्कि युवा पीढ़ी भी तेज़ी से इसका शिकार हो रहें है। इसके इलाज के लिए लोग महंगी से मंहगी दवाई खा रहें हैं। जिसके कारण शरीर में अन्य बीमारियां भी घर करने लग जाती है। पर क्या आप जानते हैं इसका समाधान आप की रसोई में ही है। जी हां डायबिटीज के लिए भींड़ी को कारगर माना गया है। यह साबित किया जा चुका है कि भींड़ी में मौजूद घुलनशील फ़ाइबर डायबिटिक रोगियों के लिए काफी अच्छा है। जो आइये जानते है इसके उपयोग के बारे में….

 
भिंडी को उपयोग करने का तरीका
रात में सोने से पहले आप 2 से 3 भिंडी को लेकर आगे पिछे से काट लिजिए। फिर इन भिंडीयों को टुकड़ो में काट कर एक गिलास पानी में डाल कर ढक दें। ध्यान रहें की आपकों भिंडी धोकर नहीं काटना है। क्योंकि भिंडी से निकलने वाला चिपचिपा सफेद तरल पदार्थ काफी फायदेमंद होता है। कुछ देर बाद अब भिंडी के टुकड़ो को पानी में से निकाल लें और बचा हुआ पानी पी जाएं। भिंडी का यह पानी आपके ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रखता है। कुछ महीनों तक आप इस नुस्ख़े को अपनाएं। बता दें कि शरीर के लिए जितनी कच्ची भिंडी फायदेमंद होती है, उतनी पकी भिंडी नहीं होती।
 
अन्य फ़ायदे
डायबिटीज़ के मरीजों को भिंडी खाने की सलाह दी जाती है, क्योंकि टाइप 2 डायबिटीज का किडनी पर भी बहुत बुरा असर पड़ता है। यदि आप रोजाना भिंडी का सेवन करते है तो इस समस्या से आप को छुटकारा मिलेगा। बता दें कि  भिंडी में ग्लाइसिमिक इंडेक्स की मात्रा बहुत कम होती है। जिससे आप भिंडी खा सकते है क्योंकि इसमें केवल 20 प्रतिशत ग्लाइसिमिक इंडेक्स होता है।