राष्ट्रीय फूल कमल को कुछ इस तरह उगाएं अपने घर में, ऐसे रखें ख्याल

कमल हमारे देश (India) का राष्ट्रिय फूल है यह दिखने में जितना खुबसूरत है उतना ही इसका महत्व भी है यह फूल मनोभाव को दर्शाता है कि समाज में गंदगी चाहे जितनी भी हो, अच्छी चीजें अपना जगह बना ही लेती हैं। यह फूल हमें पॉजिटिव एनर्जी प्रदान करता है इसके अलावा यह फूल कई देवी-देवताओं का भी प्रिय माना जाता है  

कमल का फूल दिखने में इतना खुबसूरत होता है कि इसे देख मन बहुत खुश हो जाता हैलेकिन अपने यह बेहद खुबसूरत दिखने वाले कमल के फूल को कीचड़ में ही खिलते हुए देखा होगा पर आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि इस फूल को घर पर अपने गार्डन में कैसे उगायें…

कमल का फूल उगाने के लिए क्या चाहिए? 

  • कमल के बीज
  • एक पारदर्शी ग्लास
  • दो गमले
  • चिकनी काली मिट्टी 

फूल उगाने का तरीका- 

  • कमल के पौधे को कभी भी उगाया जा सकता है, लेकिन इसके लिए बेहतर मौसम बरसात को मन जाता है
  • कमल के बिज बाज़ार में आसानी से मिल जाते हैं आप वहां से इसे खरीद कर लाएं, फिर 2-3 बीजों को लेकर इसके छिलके को ध्यान से क्रैक कर दें। क्योंकि इसके छिलके काफी कठोर होते हैं और इसे अंकुरित होने में काफी समय लगता है।
  • अब इन बीजों को एक पारदर्शी ग्लास में फूलने के लिए रख दें। एक हफ्ते में आप देख पाएंगे कि इसमें छोटे-छोटे अंकुर आ रहे हैं।
  • उसके बाद एक गमले में चिकनी काली मिट्टी को गीला कर अच्छी तरह भर दें और अंकुरित बीजों को बेहद सावधानी से ग्लास से निकाल कर गमले में लगा दें। अब एक और 6×8 का गमला लें और उसमें पानी भर दें. फिर बीज लगे गमले को इसमें रख दें। ध्यान रखें कि यह न ज़्यादा ऊँचा और न ज़्यादा गहरा रहे।
  • इस तरह कमल का पौधा एक हफ्ते में तैयार हो जाता है, लेकिन इसमें फूल आने में लगभग छः से सात महीने लग जाते हैं। 

रखरखाव का तरीका- 

  • हर 15 दिन में गमले के एक चौथाई पानी बदलते रहें, क्योंकि पानी गंदा होने से पौधे में कीट लगने के चांसेस हो सकते हैं पानी को साफ़ रखने के लिए इसमें मछलियाँ भी रख सकते हैं
  • अगर पत्तियाँ सड़ रही हैं, तो इसे तुरंत हटा दें वहीँ पौधे को तेजी से बढ़ने के लिए बोनमील और एनपीके का भी इस्तेमाल कर सकते हैं इसे कपड़े में बाँध कर पानी में रख दें।
  • कीटों से पौधे को बचाने के लिए नीम और हल्दी का स्प्रे भी कर सकते हैं।