गणपति बप्पा को चढ़ाएं महाराष्ट्र की मशहूर पूरन पोली का भोग, बनेंगे भाग्योदय के संजोग

    -सीमा कुमारी

    ‘गणेश चतुर्थी’ का पावन पर्व शुरू हो चुका है। 10 दिन तक चलने वाले इस महापर्व का बड़ा ही महत्व है। ऐसे में भक्तगण विघनहर्ता भगवान गणेश को प्रसन्न करने के लिए उनके पसंद का भोग लगाते हैं। ऐसा कहा जाता है कि, विघनहर्ता भगवान गणेश को मिठाइयां बहुत पसंद है, इसलिए आप भी बप्पा को घर पर बनी मिठाइयों से भोग लगा सकते हैं। आइए जानें महाराष्ट्र की मशहूर डिश ‘पूरन पोली’ (Puran Poli) बनाने के बारे में –

    सामग्री-

    • चने की दाल- 1 कप
    • पानी- 3 कप
    • चीनी- 1 कप
    • इलायची पाउडर- 1 छोटा चम्मच
    • जायफल- 1 छोटा चम्मच (कद्दूकस किया)
    •  मैदा- 2 कप
    • नमक- 1 छोटा चम्मच
    • घी- 2 बड़े चम्मच
    • पानी- जरूरतअनुसार

    बनाने की विधि-

    पूरन पोली बनाने के लिए सबसे पहले एक कुकर में पानी और चने की दाल को डालकर 2-4 सीटी बजने तक पकाएं। इसे निकालकर मिक्सी में दरदरा पीस लें।

    किसी एक पैन में दाल और चीनी डालकर अच्छी तरह से मिला लें और धीमीं आंच पर पकाएंफिर इस मिश्रण में इलायची पाउडर और जायफल डालकर मिक्स करें।अब इसे ठंडा होने के लिए रख दें। इसके बाद एक बडे़ बाउल में मैदा, नमक, घी और पानी मिलाकर आटा गूंथ लें।

    इस आटे के पेड़े लेकर रोटी की तरह गोल बेल लें। इसमें दाल वाला मिश्रण भरकर रोटी बेलें। तवे को गर्म करके पूरन पोली को उसपर डालें और दोनों तरफ से घी लगाकर गोल्डन ब्राउन तलें। लीजिए आपकी पूरन पोली बनकर तैयार हैं। इसे सर्विग प्लेट में निकाल कर भोग लगाएं और सभी को प्रसाद के रूप में बांटें।