Clove is full of qualities, know its tremendous benefits
File Photo

    -सीमा कुमारी

    भारतीय घरों की रसोई में लौंग का इस्तेमाल मसाले के रूप में खूब किया जाता है। यह खाने का स्वाद और खुशबू बढ़ा देता है। एक्सपर्ट्स के अनुसार. लौंग सेहत के लिए भी किसी वरदान से कम नहीं है। इसमें पर्याप्त मात्रा में एंटीवायरल, एंटी बैक्टीरियल, एंटी ऑक्सीडेंट और कई गुण पाए जाते हैं। जो शरीर के कई रोगों से बचाने में मदद करते हैं। आयुर्वेद में लौंग का इस्तेमाल जड़ी-बुटियां बनाने में भी किया जाता है। आइए जानें लौग के सेवन से होने वाले फायदे के बारे में

    हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार, लौंग एंटी ऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है। ये शरीर को इंफेक्शन से बचाने में मदद करते हैं। ये सर्दी-जुकाम की समस्या से बचाने में भी सहायक होता है। लौंग खाने से इम्यूनिटी बूस्ट होती है।

    लौंग में एंटी सेप्टिक गुण मौजूद होते हैं, जिससे यह त्वचा संबंधी समस्या में काफी मददगार है। अगर आपको मुंहासे की समस्या है, तो आप लौंग के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं या लौंग फेस पैक का भी प्रयोग कर सकते हैं।

    लौंग में कम कैलोरी और अधिक मात्रा में फाइबर होता हैं। ये वजन बढ़ने से रोकता है। फाइबर पाचन में सहायता करता हैं। ये शरीर के मेटाबॉलिज्म को तेज करने में मदद करता हैं। एक अच्छी मेटाबॉलिज्म दर तेजी से वजन घटाने में मदद करती हैं।

    एक्सपर्ट्स का मानना है कि लौंग में एंटी इंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं, अगर आपको सिर दर्द की समस्या है, तो लौंग के तेल से मालिश करें। इससे आपको सिर दर्द की समस्या से राहत मिल सकती है।

    लौंग में पर्याप्त मात्रा में फाइबर मौजूद होते हैं, जो पाचन संबंधी समस्या के लिए कारगर साबित हो सकते हैं। अगर आपको कब्ज, गैस या पाचन संबंधी अन्य समस्याएं हैं, तो लौंग के पाउडर बना लें, और इसे भून कर शहद के साथ सेवन करें। इससे पाचन दुरुस्त हो सकता है।

    लौंग के इस्तेमाल से दांत दर्द की समस्या से भी राहत मिल सकती है। लौंग में एंटी माइक्रोबियल गुण होते हैं। जिससे ये दांत दर्द की समस्या में मददगार होता है। जब आपके दांत में दर्द हो, तो उस एरिया पर कॉटन की मदद से लौंग का तेल लगाएं, इससे आपको राहत मिल सकती है। ज्यादात्तर टूथपेस्ट में लौंग एक प्रमुख सामग्री होती है।