इन बीमारियों में गलती से भी न करें एलोवेरा का इस्तेमाल, हो सकता है सेहत को नुकसान

    सीमा कुमारी

    नई दिल्ली : औषधीय गुणों से भरपूर ‘एलोवेरा’ सेहत के साथ चेहरे की सुंदरता को बरकरार रखने लिए खूब उपयोग किया जाता है | क्योंकि,यह एंटी बैक्टेरिया और एंटी फंगल गुणों से भरपूर होता है | यह ना सिर्फ स्किन के लिए उपयोगी है, बल्कि यह सेहत के लिए भी फायदेमंद है। गर्म तासीर का एलोवेरा ब्लड में शुगर के स्तर को बनाए रखता है, साथ ही कई बीमारियों जैसे बवासीर, डायबिटीज, गर्भाशय के रोग, पेट की खराबी, जोड़ों का दर्द को कम करने में भी असरदार है। 

    आप जानते हैं कि इतने उपयोगी एलोवेरा का इस्तेमाल कुछ कंडिशन्स में करने पर घातक भी साबित हो सकता है। कुछ परिस्थितियां ऐसी भी होती हैं जिसमें एलोवेरा का सेवन आपकी सेहत को बिगाड़ सकता है। आइए जानिए कब एलोवेरा आपकी सेहत को बिगाड़ सकता है।

    हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, गैस की परेशानी रहती है और ऐसे में आप एलोवेरा का जूस या एलोवेरा का सेवन करते हैं तो गैस की समस्या ज्यादा हो सकती है। पेट में गैस होने पर एलोवेरा से दूर रहना ही बेहतर है।

    एलोवेरा यूं तो पेट के लिए बहुत फायदेमंद होता है लेकिन ध्यान रहे कि इसमें मौजूद लेटेक्स कोलाइटिस, क्रोहन रोग, एपेंडीसिटीस, डायवर्टिकुलोसिस, आंतों की बाधा, रक्तस्राव, पेट दर्द और अल्सर जैसी समस्याएं का भी कारण बन सकता है।

    एक्सपर्ट्स बताते है कि, स्किन के लिए बेहद उपयोगी माना जाने वाला एलोवेरा स्किन एलर्जी में बेहद खतरनाक भी है। स्किन एलर्जी के दौरान इसका सेवन किसी भी तरह नहीं करें। इसे न स्किन पर लगाएं और न ही इसका जूस पिएं।

    जो महिलाएं गर्भवती हैं अथवा और स्तनपान कराती है ऐसी महिलाओं को भूलकर भी एलोवेरा के जूस का सेवन नहीं करना चाहिए. इससे गर्भवती महिलाओं में गर्भाशय के संकुचन का खतरा रहता है और गर्भपात और जन्म दोष हो सकता है।

    एलोवेरा रस की अधिक मात्रा में लेने से श्रोणि में रक्त का निर्माण हो सकता है, जिससे आपके गुर्दे को नुकसान हो सकता है | हालांकि इन सबके बावजूद एलोवेरा का सेवन अगर सही तरीके से सलाह लेकर किया जाए तो बहुत फायदेमंद होता है।