प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

    -सीमा कुमारी

    क्या आप जानते हैं कि, सुबह की बासी लार (saliva) सेहत के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। क्योंकि, लार मुंह में बनने वाला एक तरल पदार्थ होता है। यह एक एंटीसेप्टिक की तरह काम करता है। लार व्यक्ति को कई तरह के रोगों से बचाने का भी काम करती है।

    लार का प्रयोग आंखों के रोगों में, त्वचा संबंधी रोगों में और दांतों की कई समस्याओं में फायदेमंद है। ऐसा माना जाता है कि आयुर्वेद में हजारों साल पहले ऋषि बाग्वट ने लार के अनेक फायदे बताए थे। लार में ऐसे 18 तत्व पाए जाते है, जो मिट्टी में पाए जाते हैं। शरीर में जब यह गुण विद्यमान रहते हैं तो कई बीमारियों का इलाज बनते हैं।

    इस लार का प्रयोग अलग-अलग परेशानियों में अलग-अलग तरीक से किया जाता है। आइए जानें सुबह की बासी लार के क्या फायदे हैं:

    हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, लार में ऐसे कई गुण होते हैं जिनसे दांतों को मजबूती मिलती है। लार में पोटैशियम, सोडियम, ग्लूकोज, फास्फेट, कैल्शियम और प्रोटीन जैसे तत्व होते हैं, जो दांतों को मजबूती प्रदान करते हैं। लार में  एंटीबॉयोटिक होते हैं, जो दांतों को विषैले संक्रमणों से बचाते हैं, जिससे दांत सड़ते नहीं। यह दांतों पर सुरक्षा कवच की तरह काम करती है। इस तरह लार दांतों के लिए बहुत लाभकारी है।

    अगर आपके आंखों के नीचे डार्क सर्कल (eyes dark circles) हैं, तो इन पर बासी लार लगाने से काफी फायदा मिलता है। सुबह मुंह की लार से धीरे-धीरे अपने आंखों के आसपास मलें। ऐसा रोज करने से कुछ ही दिनों में काले घेरे दूर हो जाएंगे। साथ ही सुबह की लार काजल की तरह आंखों में लगाने से, आंखों की रोशनी भी बढ़ती है।

    एक्सपर्ट्स बताते हैं कि, सुबह की बासी लार दाग, मुहासों को दूर करने के लिए बेहद फायदेमंद होती है। मुंहासों की समस्या होती है, तो बासी लार को चेहरे पर लगाने से ये परेशानी खत्म हो जाती है। शरीर में होने वाले फोड़े-फुंसियों या घाव के भरने के बाद जो दाग रह जाते हैं, उनको भी दूर करने में भी सुबह की बासी लार बहुत काम आती है।

    पेट संबंधी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए सुबह की बासी लार काफी फायदेमंद मानी जाती है। इसके लिए सुबह उठते ही एक गिलास पानी पीना चाहिए। इससे कभी भी पाचन संबंधी परेशानी नहीं होती है।