क्या है निपाह वायरस, जानें इसके लक्षण और इससे बचने के तरीके

    नई दिल्ली : हाल ही में खबर आयी है कि केरल से 12 वर्षीय बच्चे की निपाह वायरस से मौत हो गई है। जैसे कोरोना वायरस हमारे जान के लिए बेहद खतरनाक है वैसे ही निपाह वायरस भी जानलेवा साबित हो सकता है। ऐसे में हम सबको अपनी जान की परवाह करते हुए सावधानी बरतना बेहद जरुरी है। आज हम इस लेख द्वारा आपको निपाह वायरस से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी दे रहे है, तो चलिए जानते है….. 

    क्या है निपाह वायरस 

    निपाह वायरस यह तेजी से संक्रामक होने वाला वायरस है। यह वायरस जानवरों और इंसानों में गंभीर बीमारी पैदा करता है। इस निपाह वायरस को पुराने चमगादड़ ले जाते है, जिन्हे फ्रूट बैट भी कहां जाता है। आपको बता दें कि 1998 में मलेशिया के ‘कंपंग सुंगाई निपाह’  इस वायरस का पता चला था। तब से इस वायरस को निपाह ये नाम मिला। उस वक्त यह बीमारी सूअर द्वारा फैली थी। निपह वायरस के संक्रमण से दिमाग को नुकसान पहुंचता है।

     

    जानें क्या है निपाह वायरस के लक्षण 

    1. आपको बता दें कि 5 से 14 दिन तक इसकी चपेट में आने के बाद 3 से 14 दिनों तक तेज बुखार रहता है। इसलिए अगर आपको भी ऐसा बुखार है तो तुरंत सावधान हो जाएं और अपना इलाज करवाएं। 

    2. इनमे और एक लक्षण है कि तेज सिर दर्द होता है। 

    3. इन लक्षणों  में मरीज 24 से 48 घंटों में कोमा में पहुंच सकता है। 

    4. इस वायरस के सांस लेने में परेशानी होती है। 

    5. कई लोगों को इसमें न्यूरोलॉजिकल की दिक्कतें भी होती है। 

    6. दिमाग में सूजन आने लगती है। 

    7.  मांसपेशियों में दर्द होता है। 

    निपाह वायरस से कैसे करें बचाव 

    1. हो सकें तो फल न खाएं और खभी रहे हों तो सावधानी बरतते हुए उसे धोकर खाएं। 

    2. कपूर किसी भी प्रकार के वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए बेहद कारगर है। कपूर की सुगंध लेते रहिये। 

    3.  नीम  यह हमारे सेहत के लिए बेहद अच्छा होता है। रोजाना नीम की कुछ पत्तियां लें और चबाएं। 

    4. इस वायरस से बचने के लिए आप गिलोय का जूस भी पी सकते है यह बेहद फायदेमंद होता है। 

    5. खानें में लहसुन का उपयोग करें। इसके सेवन से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।