हाथ-पैर का बार-बार सुन्न होना क्यों है खतरनाक ? जानें देसी उपचार

    -सीमा कुमारी

    अक्सर लोगों से सुनने मिलता है कि उनके हाथ-पैर बार-बार सुन्न हो जाते हैं। दरअसल, ऐसा होने का मुख्य कारण एक ही पॉजिशन में बैठे रहने से भी हाथ-पैर बार-बार सुन्न हो जाते हैं। काफी देर तक बैठे रहने या एक साइड से ही सोने अथवा लेटने पर उस अंग की कोई नस के दबने से भी हो जाता है।नस दबने पर उस अंग तक सही मात्रा में ऑक्सीजन नहीं पहुंचती और दिमाग उस अंग को सही से संकेत नहीं भेज पाता या संकेत भेजना बंद कर देता है।

    कई मामलों में हाथ-पैर का सुन्न हो जाना कोई बड़ी समस्या नहीं है। ऐसी स्थिति में उस अंग को हिला-डुलाकर या थोड़ी सी मालिश कर सुन्नपन खत्म कर सकते हैं। लेकिन, यह बार-बार हो तो गंभीर बीमारी का शुरूआती संकेत भी हो सकता है। हालांकि यह बीमारी गंभीर नहीं है। अगर सही वक्त पर इलाज मिलता है और मरीज तय समय पर दवाओं का सेवन करता है, तो उसे इससे छुटकारा मिल सकता है। ऐसे में जानना जरूरी है कि ऐसा होता क्यों है ?

    • हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, ऐसा होने का सबसे बड़ा कारण शरीर में ब्लड सर्कुलेशन सही से न होना है। जब रक्त संचार ठीक से नहीं होता तो नसों पर इसका असर पड़ता है। शरीर के जरूरी अंगों तक ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाती। वहीं दूसरा कारण खून की कमी भी हो सकती हैं इससे भी बार बार हाथ पैर सुन्न होने लगते हैं।
    • महिलाओं में प्रेगनेंसी के दौरान भी यह समस्या होने लगती है। वहीं शराब का अधिक सेवन करने, डायबिटीज, थाइरॉयड, विटामिन की कमी, ब्रेन स्ट्रोक, दिल से जुड़ी समस्या के चलते भी नसें कमजोर होने लगती है। जो लोग फिजिकल एक्टिविटी कम करते हैं, उन्हें भी यह समस्या रहती है। इसलिए दिन में 30 मिनट एक्सरसाइज योग और सैर जरूर करें।
    • कहा तो ये भी जाता है कि, शरीर में पोषक तत्वों की कमी होने के कारण से भी हाथ-पैर बार-बार सुन्न हो जाते हैं। अगर कमजोरी के चलते ऐसा हो तो डाइट में विटामिन और मैग्नीशियम लें। पालक, अलसी के बीज, तिल, मेथी, बादाम, अंडा, केला व काजू, हरी सब्जियां व आयरन विटामिन्स भरपूर चीजें आदि शामिल करें। डॉक्टरी परामर्श से विटामिन्स मैग्नीशियम सप्लीमेंट्स भी लिए जा सकते हैं। कुछ घरेलू नुस्खों की मदद से भी इससे निजात पाया जा सकता है।

    घरेलू नुस्खे:

    एक चम्मच सरसों तेल में कुछ बूंद तुलसी का रस मिलाएं और इस मिश्रण से सुन्न पड़े अंग की मालिश करें। ऐसा करने से आपको जल्द मिल सकता है। इसके अलावा  एक चम्मच सोंठ और 5 लहसुन की कलियों को पीसकर पेस्ट बनाएं और इसे लेप की तरह सुन्न स्थान पर लगाएं।

    इन नुस्खे की मदद से आप अपनी बीमारी से निजात पा सकते हैं। अगर आराम ना मिले तो किसी डॉक्टर से परामर्श ले सकते हैं।