जानें क्यों मनाया जाता है Bisexuality Day और इसका उद्देश्य

    नई दिल्ली : हर साल पूरे विश्वभर में 23 सितंबर को ”उभयलैंगिकता दिवस” (Celebrate Bisexuality Day) मनाया जाता है। संसार में मानव और उसकी इच्छाओं का सम्मान किया जाता है। इसलिए हर साल 23 सितंबर को यह दिन मनाया जाता है। आज ‘विश्व उभयलैंगिकता’ (Celebrate Bisexuality Day) के इस अवसर पर जानते है इससे जुड़ी कुछ अहम जानकारी…. 

    क्या है उभयलैंगिकता (Bisexuality)

    उभयलैंगिकता (Bisexuality) यानी किसी व्यक्ति को पुरुष और महिला इन दोनों के प्रति आकर्षण होता है। इसमें रोमांटिक आकर्षण, योन आकर्षण,  आदि शामिल होता है। Bisexuality में लोग एक से अधिक लिंग की और आकर्षित होते है और ये ही  इसकी परिभाषा है।

     

    Celebrate Bisexuality Day का उद्देश्य 

    23 सितंबर को हर साल ‘उभयलिंगी दिवस’ (Bisexuality) के रूप में मनाया जाता है। हर विशेष दिन का एक महत्व होता है। इस दिन का उद्देश्य उभयलिंगियों को आगे आने और सार्वजनिक रूप से खुद की पहचान बनाने अथवा बताने के लिए एक मंच देना है। 

    दुनियाभर में ‘उभयलिंगी’ (Bisexuality) को लेकर पहले बहुत विरोध हुआ करता था। लेकिन वक्त के साथ धीरे-धीरे वैचारिक तोर पर लोगों का विकास हो रहा है और इसे देखते हुए लोग अब इस चीज को धीरे-धीरे स्वीकार कर रहे हैं। साथ ही इसे समझने की कोशिश कर रहे है। हर चीज में दुनिया आगे निकल रही है।

    अब इन विषयों पर भी लोगों को जागरूक किया जा रहा है। इसके अलावा दुनियाभर में उनके अधिकारों  के लिए कानून बन रहे हैं। एक इंसानी तौर पर हम सबको इन्हें समझने की जरूरत है।