जल्द आ रहा है बसंत पंचमी त्यौहार, यहां जानें क्या करें और क्या न करें

    नई दिल्ली: देश में कई धार्मिक त्यौहार होते है, जिन्हे बहुत माना जाता है। उन्ही में से एक है बसंत पंचमी। माघ माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को बसंत पंचमी का त्योहार मनाया जाता है। जैसा की हम सब जानते है इस दिन ज्ञान और विद्या की देवी मां सरस्वती की पूजा होती है। इस बार बसंत पंचमी का पर्व 26 जनवरी 2023 को मनाया जाएगा। बसंत पंचमी को बहुत सी जगह पर श्री पंचमी और सरस्वती पंचमी भी कहते हैं। कहा जाता है कि इस दिन से बसंत ऋतु का आगमन हो जाता है।

    इस दिन संगीत और ज्ञान की देवी की पूजा करनी चाहिए। इस दिन किसी भी मांगलिक कार्य की शुरुआत करना काफी शुभ माना जाता है। इस दिन भूलकर भी पेड़ पौधों को नुकसान नहीं पहुंचाना चाहिए। ऐसे में आ रहे  बसंत पंचमी त्यौहार पर आइए जानते है क्या करे और क्या न करें। 

    बसंत पंचमी के दिन क्या करें 

    • 1. बसंत पंचमी का दिन बहुत शुभ माना जाता है. इसलिए इस दिन किसी भी समय कोई भी मांगलिक कार्य किया जा सकता है। 
    • 2. बसंत पंचमी के दिन छात्रों को भी मां सरस्वती की पूजा करनी चाहिए । 
    • 3. बसंत पंचमी के दिन सबसे पहले सुबह उठते ही अपनी हथेलियों को देखना चाहिए. माना जाता है कि हथेलियों में मां सरस्वती का वास होता है। 
    • 4.मान्यता है कि बसंत पंचमी के दिन शिक्षा से संबंधित चीजों का दान करना चाहिए, उससे शुभ फल की प्राप्ति होती है। 
    • 5. पूजा के समय देवी सरस्वती की मूर्ति के सामने कलम रखें जिसका प्रयोग पूरे साल करना चाहिए. उससे जीवन में सफलता प्राप्त होती है। 
    • 6. पूजा में सफेद और पीले रंग का उपयोग जरूर करें। 

    बसंत पंचमी के दिन क्या न करें 

    • 1. परिवार में किसी से झगड़ा न करें। 
    • 2. फसल न काटें और पेड़ न काटें। 
    • 3. मांसाहारी भोजन न करें और भूल से भी शराब का सेवन न करें। 
    • 4. बड़ों का अनादर न करें, उनकी कही बातों की अवहेलना न करें। 
    • 5. इस दिन धूम्रपान से भी दूरी बनाकर रखें। 

    ये है बसंत पंचमी शुभ मुहूर्त

    आपको बता दें कि माघ माह की तिथि यानी बसंत पंचमी की तिथि का आरंभ 25 जनवरी को दोपहर में 12 बजकर 34 मिनट पर हो रहा है और इसका समापन 26 जनवरी को सुबह 10 बजकर 28 पर होगा। वही उदयातिथि के अनुसार, बसंत पंचमी 26 जनवरी 2023 को मनाई जाएगी। बता दें कि 26 जनवरी को बसंत पंचमी का पूजा मुहूर्त सुबह 07 बजकर 07 मिनट से लेकर सुबह 10 बजकर 28 मिनट तक रहेगा।