Haj Pilgrims

Loading

  • महरम के बिना हज पर जाने वाली महिलाओं की बढ़ी तादात 

सैय्यद जाहिद अली@नवभारत 
मुंबई: हज मुसलमानों के 5 फर्ज बातों में सबसे बड़ा फर्ज है और सबसे सबाब का काम है। हर मुसलमान चाहता है कि वो अपनी जिन्दगी में एक बार तो हज जरुर करे,सरकार हज यात्रा को सहज और सुलभ बनाने का लगातार प्रयास करती रही है। इस बार केंद्रीय हज कमेटी ने हज पर जाने वाले यात्रियों की सुरक्षा के लिये नई गाईड लाईन जारी की है। अब हर यात्री को हलफ़नामा देना होगा। 

नई गाइडलाइन जारी
केंद्रीय हज कमेटी ने हाल ही में हज 2024 के लिये नई गाइडलाइन जारी की है। इसको लेकर हज यात्रियों में भारी नाराजगी भी देखी जा रही है। हालांकि हज यात्रा के दौरान होने वाली दुर्घटनाओं को देखते हुए ऐसा किया गया है। इस पर मुंबई पलटन रोड स्थित हज कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष इम्तियाज काजी कहते हैं कि इस तरह की गाइडलाइन जारी करने से लोग असमंजस की स्थिति पैदा हो गई है। क्योंकि नई गाइडलाइन के मुताबिक आवेदकों को सरकारी अस्पताल के चिकित्सक वो भी एलोपैथिक डाक्टर होना चाहिए उसका मेडिकल प्रमाण पत्र देना होगा। इसके अलावा स्वास्थ्य संबंधी हलफनामा जमा करना होगा, मेडिकल प्रमाण पत्र के साथ जिस पर डॉक्टर के हस्ताक्षर के साथ स्वयं के हस्ताक्षर या फिर अंगूठा लगा होना अनिवार्य है। 
 
 
हलफनामे में गलत जानकारी से हज यात्रा रद्द हो सकती है 
बिना महरम के इस बार देश भर से हज यात्रा पर जाने वाली महिलाओं की संख्या सर्वाधिक है। 45 फीसदी महिलाएं बिना महरम के हज यात्रा पर जा रही हैं। देश भर से 6370 महिलाओं ने आवेदन किया है। जानकारी के मुताबिक देश भर में सभी राज्यों मे 20 हजार हज आवेदन केन्द्र बनाये गए हैं। हज के लिये कुल 3 से 3.5 लाख रुपये खर्च होते हैं, लेकिन निजी टूर से जाएं तो 5 लाख तक का खर्च आता है। हज कुल 40 दिन का होता है। 10 दिन मदीना में रहना होता है। पिछली बार हज कमेटी से हज पर जाने वालों को 3 लाख 60 हजार देना पड़ा था। 
 
इम्तियाज काजी (कार्यकारी अधिकारी, महाराष्ट्र राज्य हज कमेटी) ने बताया महाराष्ट्र से 22 हजार से अधिक हज यात्री हज पर जाएंगे। पहले हज यात्रियों द्वारा 81 हजार 800 रुपये एडवांस में भरवाया गया है। 1 लाख 70 हजार रुपये 10 मार्च तक जमा करने होंगे। बाकी के रुपये सऊदी अरब से रियाल के अनुसार हज यात्रियों को देना होगा, इसकी जानकारी उन्हें बाद मे दी जाएगी। पहली फ्लाइट कब जाएगी अभी केंद्र से शेड्यूल नहीं आया है।