Worshiping Bhuvaneshwari Devi will bring good fortune

    सीमा कुमारी

    नई दिल्ली : नौ दिनों तक चलने वाला ‘नवरात्रि’ का पावन पर्व हिन्दुओं का प्रमुख त्योहार है। इस दौरान श्रद्धालु देवी दुर्गा के नौ रूपों की पूजा करते हैं। मान्यता है कि देवी मां की पूजा व व्रत रखने से शुभ फल की प्राप्ति होती है। इन पूरे नौ दिनों को भव्य उत्सव का प्रतीक माना जाता है। इस दौरान अलग-अलग रंगों का भी बहुत महत्व होता है। मान्यताओं के मुताबिक, इन पूरे नौ दिनों तक अलग-अलग रंग के कपड़े पहनने से देवी मां के नौ रूपों की असीम कृपा होती  है। आइए जानें नवरात्रि के अलग-अलग दिन में किस रंग के कपड़े पहनने चाहिए।

    मान्यताओं के अनुसार, नवरात्रि का पहला दिन गुरुवार को पड़ रहा है। इस दिन पीला रंग पहनना शुभ माना जाता है। इस रंग को आनंद और उत्साह प्रतीक माना जाता है। इसलिए आप भी नवरात्रि के पहले दिन पर पीले रंग के कपड़े पहने।

    ‘नवरात्रि’ के दूसरे दिन मां ‘ब्रह्मचारिणी’ की पूजा होती है। इस दिन हरा रंग पहनना शुभ होता है। इस रंग को प्रकृति और समृद्धि का प्रतीक माना जाता है। इसलिए आप भी इस रंग के कपड़े पहन सकती है।

    ‘नवरात्रि’ के तीसरे दिन माता ‘चंद्रघंटा’ की पूजा की जाती हैं। कहा जाता हैं कि इस दिन ग्रे रंग के कपड़े पहनकर मां की उपासना करने से सारी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। ग्रे रंग का एथेनिक वियर इस दिन आपको फेस्टिव लुक देगा। आप ग्रे रंग के साथ मिक्स एंड मैच भी करेंगे तो सुंदर लगेगा। 

    ‘नवरात्रि’ के चौथे दिन माता ‘कुष्मांडा’ की पूजा – अर्चना की जाती है। कहते हैं कि इस दिन ऑरेंज रंग पहनना शुभ होता है।

    ‘नवरात्रि’ के पांचवे दिन सफेद रंग के कपड़े पहनने शुभ माने जाते हैं। यह रंग पवित्रता और मासूमियत का प्रतिनिधित्व करता है। मान्यता है कि इस रंग के कपड़े धारण करने से सर्वशक्तिमान देवी का आशीर्वाद प्राप्त होता है।

    ‘नवरात्रि’ के छठे दिन मां ‘कात्यायनी’ की पूजा की जाती है | इस दिन के लिए लाल रंग बहुत शुभ माना जाता है।

     ‘नवरात्रि’ के सांतवें दिन रॉयल ब्लू पहने। नीला रंग सुख-समृद्धि व अच्छा स्वास्थ्य लेकर आता है। इसलिए आप इस दिन नीले रंग की कोई ड्रेस पहन सकती हैं।

    ‘नवरात्रि’ के आठवें दिन यानी अष्टमी को महागौरी की पूजा होती है। इस दिन गुलाबी रंग पहनना शुभ होता है। इस दिन गुलाबी रंग के कपड़े पहन कर माता की पूजा करें।

    ‘नवरात्रि’ के आखिरी दिन यानी नौवें दिन मां ‘सिद्धिदात्री’ की पूजा की जाती है। आपके मन की मुरादें पूरी करने के लिए मां को प्रसन्न करने का ये दिन सबसे शुभ होता है। इस दिन जामुनी रंग के कपड़े पहनना लकी हो सकता है। आज जामुनी रंग की साड़ी-सूट, स्कर्ट या लहंगा पहन सकती हैं। लड़कों पर भी जामुनी रंग के परिधान काफी जंचेगा।