शादी का झांसा देकर नाबालिग से दुष्कर्म करने का आरोपी गिरफ्तार, भाजपा ने बताया लव जिहाद का मामला

भोपाल: मध्य प्रदेश (Madhyapradesh) के सतना (Satna) जिले में 40 वर्षीय व्यक्ति द्वारा 16 वर्षीय बालिका को कथित रूप से शादी का झांसा देकर उसके साथ पिछले दो वर्ष से बलात्कार करने का मामला सामने आया है। इस मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। मध्य प्रदेश भाजपा (BJP) ने इसे लव जिहाद (Love Jihad) का मामला बताया है और कहा कि इसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

सतना के कोलगवां पुलिस थाना प्रभारी मोहित सक्सेना ने रविवार को बताया कि इस मामले में पुलिस ने मोहम्मद अतीक मंसूरी (40) को गिरफ्तार कर लिया है और शनिवार से वह हमारी हिरासत में है।

मध्य प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा (Vishnu Datt Sharma) ने सतना में हुई इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘‘प्रदेश में लव जिहाद की घटना किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं होगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) ने लव जिहाद घटना को गंभीरता से लिया है। ऐसे लोगों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई आवश्यक है।”

थाना प्रभारी सक्सेना ने कहा कि यह लड़की जिम में जाया करती थी और वहीं से इस आरोपी से उसकी दोस्ती हुई। उन्होंने बताया कि पीड़ित लड़की (11वीं की छात्रा) ने शुक्रवार रात को पुलिस में शिकायत की थी कि उसके साथ वर्ष 2018 से मोहम्मद अतीक मंसूरी द्वारा निरंतर यौन शोषण किया जा रहा है, जिस पर पुलिस द्वारा थाना कोलगवां थाने में उसके खिलाफ भादंवि की संबंधित धाराओं के साथ-साथ पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर विवेचना में लिया गया है। स

क्सेना ने बताया कि हमने अलग-अलग टीम बनाकर हर संभावित स्थानों पर आरोपी की गिरफ्तारी हेतु दबिश देते हुए महज चार घंटे के अंदर उसे गिरफ्तार किया। उन्होंने कहा, ‘‘कल हम उसे अदालत में पेश करेंगे।”

इसी बीच, सतना जिले के पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल ने बताया कि इस मामले में सतना के नगर पुलिस अधीक्षक विजय सिंह परिहार के नेतृत्व में विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया गया है और जांच जारी है। उन्होंने कहा कि आरोपी के खिलाफ और भी महिलाओं के साथ ब्लैकमेलिंग करने और उससे संपत्ति अर्जित करने की शिकायतें प्राप्त हुई हैं।

इकबाल ने बताया कि एसआईटी की अलग-अलग टीमों द्वारा आरोपी के फार्महाउस, इंटरनेट साइबर कैफे एवं जिम में पुलिस द्वारा छापामारी की जा रही है। उन्होंने कहा कि जो भी साक्ष्य मिलेगा, उसके आधार पर आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

इकबाल ने बताया कि आरोपी के ऊपर पूर्व से ही थाना कोतवाली में मारपीट के तीन मामले दर्ज हैं एवं थाना कोलगवां में अभी जो अपराध दर्ज हुआ है उसमें नाबालिग से साथ दुष्कर्म करने का मामला है। उन्होंने कहा कि आरोपी के अपराधिक रिकॉर्ड देखते हुए उसका शस्त्र लाइसेंस निरस्तीकरण एवं राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (एनएसए) के तहत उसके खिलाफ कार्रवाई करने हेतु प्रतिवेदन जिलाधिकारी को भेजा गया है।

पुलिस अधीक्षक इकबाल ने अपील है कि यदि इस अपराधी के बारे में किसी के पास कोई सूचना, कोई शिकायत हो या कोई इसके ब्लैकमेलिंग का शिकार हुआ हो, तो वह निर्भय होकर सामने आए और उसकी शिकायत करें। शिकायतकर्ता की जानकारी को गोपनीय रखी जाएगी और सतना पुलिस द्वारा ऐसे अपराधियों के विरुद्ध में कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

जब एसआईटी के एक सदस्य ने सवाल किया गया कि क्या आरोपी मोहम्मद अतीक मंसूरी उर्फ समीर उर्फ सिकंदर ने इस लड़की को फेसबुक पर समीर सिंह के नाम से अपने जाल में फंसाया गया है जैसा की खबरों में चल रहा है, तो इस पर उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं है। उन्होंने कहा कि आरोपी ने एक महिला से शादी की है, लेकिन उसे तलाक दे दिया है।(एजेंसी)