मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का कमलनाथ पर तंज, कहा- तेरी प्यारी-प्यारी सूरत को किसी की नजर ना लगे

भिंड: मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में 27 सीटों पर होने वाले उप चुनाव में जीत के लिए भाजपा (BJP) ने अपना पूरी ताकत झोंक दी है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) ने जीन सीटों पर चुनाव होने वाले हैं वह का दौरा कर करोड़ो रुपए की योजनाओं का शिलान्यास और  लोकार्पण कर रहे है. इसी क्रम में आज भिंड जिले के गोहदा में लोगों को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता कमल नाथ (Kamalnath) पर तंज कसा है. उन्होंने कहा, “तेरी प्यारी-प्यारी सूरत को किसी की नजर ना लगे कमलनाथ.”

हमने कई बार कहा कि कमल नाथ जी कभी बाहर निकलो, जनता कष्ट में हैं, बाढ़ आ गई, सूखा पड़ गया. वो बोले हम ऐसे मुख्यमंत्री थोड़ी हैं जो गली-गली फिरें, हम तो यहीं बंगले में बैठकर देख लेते हैं. मैंने कहा, तेरी प्यारी-प्यारी सूरत को किसी की नजर ना लगे कमलनाथ

शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश

मुख्यमंत्री ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा, “कांग्रेस के नेताओं ने राशन घोटाला किया, गरीब के मुँह से निवाला छीना। इन सभी लोगों को पकड़कर हम जेल में डालने का काम कर रहे हैं.” उन्होंने कहा, “हम विकास की नई इबारत लिखेंगे. किसानों, युवाओं, बहनों और गरीबों को उनका हक मिलेगा. कांग्रेस बेरोजगारी भत्ते की बात करती थी, हम रोजगार देकर दिखायेंगे.”


किसानों की चिंता की होती तो, आज खेत-खेत न भटकना पड़ता
सीएम शिवराज ने कहा, “मैं जब कमलनाथ जी से कहता था कि फसलें खराब हो गई हैं, किसानों का हाल देख लीजिए, तो कहते थे कि मैं तो वल्लभ भवन से ही देख लेता हूं. अब फसल देखने खेतों में पहुंच रहे हैं. उस समय किसानों की चिंता कर ली होती तो, आज उन्हें खेत-खेत न भटकना पड़ता. गरीब परिवारों के बच्चों की मेडिकल, इंजीनियरिंग और उच्च शिक्षा की फीस हम भरवाते थे, उस योजना को कांग्रेस ने बंद कर दिया था. गर्भवती बहनों को 16 हजार रुपये लड्डू के लिए मेरी सरकार देती थी, कमलनाथ जी हमारी बहनों के लड्डू का भी पैसा खा गये.”

दिग्विजय और कमलनाथ गद्दार 
वहीं भाजपा नेता और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने कांग्रेस सहित दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) और कमल नाथ पर जोरदार हमला किया है. उन्होंने कहा, “कांग्रेस ने कहा था कि किसान का ऋण हम 10 दिन में माफ कर देंगे, नहीं तो मुख्यमंत्री को बदल देंगे. आज मैं पूछना चाहता हूं कि गद्दार अगर कोई है तो वो कमल नाथ और दिग्विजय सिंह हैं, जिन्होंने किसानों का ऋण आज तक माफ नहीं किया.”