BJP, Congress will raise objections in Madhya Pradesh by-election area

इंदौर. अयोध्या में बुधवार को राम मंदिर शिलान्यास के मौके पर मध्यप्रदेश में सत्तारूढ़ भाजपा ने इंदौर जिले के सांवेर विधानसभा क्षेत्र में घर-घर जाकर करीब पांच लाख लड्डुओं का प्रसाद बांटने की घोषणा की है। अनुसूचित जाति के लिये आरक्षित इस क्षेत्र में उपचुनाव होने वाले हैं। उधर, प्रमुख विपक्षी कांग्रेस ने घर-घर लड्डू बांटे जाने से कोविड-19 का संक्रमण फैलने के खतरे का हवाला देते हुए प्रशासन से मांग की है कि चुनावी राजनीति से प्रेरित भाजपा के इस कार्यक्रम पर तत्काल रोक लगायी जाये।

भाजपा की जिला इकाई के अध्यक्ष राजेश सोनकर ने मंगलवार को संवाददाताओं को बताया, “अयोध्या में भगवान राम की जन्मभूमि पर उनके भव्य मंदिर के शिलान्यास कार्यक्रम को हम महोत्सव की तरह मनायेंगे। इसके तहत सांवेर क्षेत्र के 252 गांवों में विभिन्न धार्मिक आयोजनों के साथ ही लोगों के घर-घर जाकर प्रसाद के रूप में करीब पांच लाख लड्डू बांटे जायेंगे।” सोनकर ने दावा किया, “लड्डू वितरण कार्यक्रम की विशेषता यह होगी कि सांवेर क्षेत्र के हर परिवार की भागीदारी के बावजूद इसमें कोविड-19 से बचाव के दिशा-निर्देशों का राई के दाने के बराबर भी उल्लंघन नहीं होगा।”

गौरतलब है कि राज्य के जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट को सांवेर क्षेत्र के आगामी उपचुनावों में भाजपा का टिकट मिलना तय माना जा रहा है, जबकि पूर्व लोकसभा सांसद प्रेमचंद बौरासी “गुड्डू” कांग्रेस खेमे से उम्मीदवारी के तगड़े दावेदार हैं। पखवाड़े भर में सिलावट और गुड्डू, दोनों कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। संक्रमित पाये जाने से पहले दोनों प्रतिस्पर्धी नेता आगामी उपचुनावों के मद्देनजर सांवेर क्षेत्र के सघन दौरे कर रहे थे। इस बीच, भाजपा के लड्डू वितरण कार्यक्रम पर निशाना साधते हुए प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता नीलाभ शुक्ला ने कहा, “भगवान राम में हमारी पूरी आस्था है। लेकिन भाजपा महज अपनी चुनावी राजनीति चमकाने के लिये कोरोना वायरस संक्रमण के खतरे को नजरअंदाज करते हुए सांवेर के लोगों की सेहत से खिलवाड़ करना चाहती है।” उन्होंने कहा, “हम इस खतरे के मद्देनजर जिला प्रशासन से मांग करते हैं कि वह भाजपा का घोषित लड्डू वितरण कार्यक्रम तत्काल रुकवाये।”