Digvijay Singh and PM Narendra Modi

भोपाल. कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह (MP Digvijay Singh) ने अयोध्या (Ayodhya) में भगवान राम (Lord Ram) के मंदिर निर्माण (Temple) के लिये सोमवार को ‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट’ के नाम 1,11,111 रूपये का चेक काटकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) को भेजा है।

सिंह ने मोदी को लिखे अपने पत्र में कहा है, “अयोध्या में भगवान राम के मंदिर को लेकर उच्चतम न्यायालय के आदेश का हम सभी ने स्वागत किया है किन्तु मंदिर निर्माण के लिये न्यास का जो गठन किया गया है उसमें सनातन धर्म के प्रमुख शंकराचार्यों में से किसी एक को भी सम्मिलित नहीं किये जाने पर मुझे एतराज रहा है। फिर भी मैं चाहूंगा कि अयोध्या में भगवान श्री राम का मंदिर निर्माण यथाशीघ्र हो।”

उन्होंने आगे लिखा, “चूंकि मुझे जानकारी नहीं है कि मंदिर निर्माण हेतु दान करने के लिये कहाँ और किस बैंक के किस खाते में राशि जमा करनी है, इसलिये मैं मंदिर निर्माण में अपने योगदान स्वरूप ‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट‘ के नाम रूपये 1,11,111 (एक लाख ग्यारह हजार एक सौ ग्यारह रूपये मात्र) का चेक क्रमांक 601147 इस पत्र के साथ संलग्न कर रहा हूँ। आशा है, आप इसे उचित खाते में जमा करवा देंगे।”

सिंह ने कहा कि विश्व हिन्दू परिषद द्वारा इस साल 15 जनवरी से राम के मंदिर निर्माण हेतु 44 दिनों के राष्ट्रव्यापी चंदा अभियान की शुरूआत की गई है। इसके पहले से भी भगवान राम के मंदिर निर्माण हेतु अनेक ज्ञात और अज्ञात लोगों द्वारा देश के अनेक स्थानों पर चंदा एकत्रित करने का कार्य प्रारंभ किया जा चुका है।

उन्होंने कहा, “मैं आपको यह भी अवगत कराना चाहता हूँ कि कुछ संगठन बहुत बड़े पैमाने पर लाठी, बल्लम, तलवारें लेकर मंदिर निर्माण के लिये चंदा वसूल कर रहे हैं। चंदा एकत्रित करने के लिये हथियार लेकर किसी एक समुदाय के खिलाफ भड़काने वाले नारे लगाना मेरी समझ से किसी धार्मिक अनुष्ठान या क्रियाकलाप का हिस्सा नहीं हो सकते। सनातन धर्म का तो कदापि नहीं।”

सिंह ने कहा कि मध्यप्रदेश में इसकी वजह से तीन अप्रिय घटनाएं हो चुकी हैं तथा इससे सामाजिक ताने-बाने को क्षति पहुंची है। अन्य स्थानों पर भी ऐसी घटनाओं की सूचनाएं मिल रही है। मुझे जानकारी नहीं है कि इन लोगों को न्यास ने चंदा वसूल करने के लिये अधिकृत किया या नहीं? अथवा वे चंदे की रसीदें भी लोगों को दे रहे है या नहीं? उन्होंने कहा, “आप देश के प्रधानमंत्री है। आप भलीभांति जानते हैं कि राम मंदिर के निर्माण कार्य में अन्य धर्म के लोगों का कोई विरोध नहीं है। यह आपकी जिम्मेदारी है कि भगवान राम के मंदिर निर्माण के नाम पर चन्दा एकत्रित करने का जो कार्य हो रहा है वह सौहार्दपूर्ण वातावरण में हो।”

सिंह ने प्रधानमंत्री से मांग करते हुए लिखा, “आप ऐसे संगठनों को मंदिर निर्माण का चंदा एकत्रित करने से तत्काल रोंकें, जो अन्य धर्म के लोगों के खिलाफ नारेबाजी करके हथियारों को लेकर चंदा एकत्रित कर रहे हैं। आप देश की सभी राज्य सरकारों को भी यह निर्देश दें कि वे इस तरह की अप्रिय घटनाओं को अपने राज्य में होने से रोकें।”

उन्होंने कहा, “चूंकि पूर्व में भी विश्व हिन्दू परिषद द्वारा राम मंदिर के नाम से चंदा एकत्रित किया गया था। मैं आपसे यह भी अनुरोध करूंगा कि आप विश्व हिन्दू परिषद को पूर्व में एकत्रित किये गये चंदे का लेखा-जोखा आम जनता के समक्ष प्रस्तुत करने के लिये बाध्य करें।” (एजेंसी)