सरकार प्रमुख मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए कर रही लव जिहाद विरोधी कानून लाने जैसे काम – दिग्विजय

दमोह. मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने ‘लव जिहाद’ को लेकर कहा कि सरकार प्रमुख समस्याओं से ध्यान हटाने के लिए ये सब कर रही है और यदि इससे बेरोजगारी, पिछड़ापन तथा गरीबी खत्म हो जाए तो उन्हें कोई दिक्कत नहीं है। सिंह ने सोमवार देर रात यहां संवाददाताओं के साथ बातचीत में भाजपा सरकार पर प्रमुख मुद्दों से ध्यान भटकाने का आरोप लगाया और कहा कि आज जो समस्याएं हैं, सरकार उनपर क्यों ध्यान नहीं दे रही है। वह मध्य प्रदेश सरकार द्वारा ‘लव जिहाद’ के खिलाफ कानून बनाने संबंधी सवाल का जवाब दे रहे थे।

सिंह ने कहा कि सरकार प्रमुख मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए ‘लव जिहाद’ विरोधी कानून लाने जैसे काम कर रही है। यदि इससे बेरोजगारी, पिछड़ापन तथा गरीबी खत्म हो जाए तो उन्हें इससे कोई दिक्कत नहीं है। उन्होंने ‘कोरोना वैक्सीन’ के मध्य प्रदेश में परीक्षण पर कहा कि इसमें प्रोटोकॉल का पालन होना चाहिए। सरकार को जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए। इसका अगर कोई दुष्प्रभाव हुआ तो जिम्मेदारी किसकी होगी।

सिंह ने किसान आंदोलन पर कहा कि किसान अपनी मूलभूत सुविधाओं की मांग कर रहे हैं। दूसरा इसमें मंडियां समाप्त की जा रही हैं। भाजपा को इसपर चर्चा करनी थी। इस कानून से बड़े लोगों को लाभ पहुंचाया जा रहा है। इसलिए किसान आंदोलन कर रहे हैं। यदि कानून लाने के पहले ही किसानों से चर्चा कर ली जाती तो यह स्थिति क्यों बनती। उन्होंने कहा कि उपचुनाव परिणामों को लेकर कांग्रेस को जो अपेक्षा थी, उसके अनुरूप परिणाम नहीं मिले, जिसकी समीक्षा की जा रही है। (एजेंसी)