शख्स ने एमपी में अपनी पत्नी को जबरन पिलाया तेज़ाब, अस्पताल में इलाज जारी

    ग्वालियर. मध्यप्रदेश के ग्वालियर (Gwalior) में पुलिस ने 22 वर्षीय एक महिला को कथित रूप से तेजाब पिलाये (Acid)  जाने पर उसके ससुराल वालों के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बुधवार को बताया कि आरोपियों ने दहेज की मांग पूरी न होने पर कथित तौर महिला को तेजाब पिलाया था। दिल्ली महिला आयोग की प्रमुख स्वाति मालीवाल ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) को ट्वीट कर दोषियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की मांग की। इसके बाद ग्वालियर पुलिस ने कार्रवाई की है।

    पुलिस अधीक्षक (एसपी) अमित सांघी ने कहा कि दिल्ली में कार्यकारी मजिस्ट्रेट के सामने पीड़िता द्वारा दिए गए बयान के आधार पर पुलिस ने मंगलवार शाम को उसके ससुराल वालों के खिलाफ पूर्व में दर्ज दहेज के मामले में भादंसं की धाराएं 307 (हत्या का प्रयास) और 326 ए (एसिड के इस्तेमाल से गंभीर चोट पहुंचाना) भी जोड़ी हैं। अधिकारी ने बताया कि घटना 28 जून को ग्वालियर जिले के डबरा की है। इसके बाद पीड़िता की मां ने आरोप लगाया कि उनकी बेटी को उसके ससुराल वालों ने दहेज की मांग पूरी न होने पर तेजाब पिला दिया। घटना के बाद डबरा थाने में पीड़िता के ससुराल वालों के खिलाफ मामला दर्ज किया था। अधिकारी ने बताया कि पीड़िता की इस साल अप्रैल में डबरा के एक व्यक्ति से शादी हुई थी। उन्होंने बताया कि पीड़िता की हालत खराब होने पर उसे उपचार के लिए दिल्ली रेफर किया गया जहां उसने मजिस्ट्रेट के सामने अपने बयान में बताया कि उसके पति और ससुराल वालों ने दहेज की मांग पूरी न होने पर उसे तेजाब पिलाया। अधिकारी ने बताया कि मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है जबकि दो अन्य की तलाश की जा रही है।

    इससे पहले मंगलवार को मालीवाल ने एक ट्वीट में बताया कि वह दिल्ली में अस्पताल में पीड़िता से मिलने गई थी। मालीवाल ने लिखा था, ‘‘ ग्वालियर की लड़की को उसके पति ने तेजाब पिलाया जिससे उसके अंग जल गए।.. अब तक कोई गिरफ्तार नहीं हुआ। लड़की का इलाज हम दिल्ली में करवा रहे हैं और उसके बयान भी एसडीएम के सामने दर्ज करवाए गए हैं। ये भयानक फोटो इस आस से डाली है कि शिवराज सिंह चौहान जी (मुख्यमंत्री, मध्यप्रदेश) अपराधियों को गिरफ्तार करवाएंगे।” ट्वीट का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कार्यालय ने मालीवाल को ग्वालियर पुलिस द्वारा इस मामले में की गई कार्रवाई की जानकारी दी है। (एजेंसी)