International Yoga Day: Eunuchs from different cities in the country did yoga together

 इंदौर (मध्यप्रदेश). छठे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर देश के अलग-अलग शहरों के 35 किन्नरों ने रविवार को अनूठे ऑनलाइन सत्र में एक साथ योग किया। इस दौरान उन्होंने कोविड-19 के प्रकोप से मुक्ति की सामूहिक प्रार्थना भी की। स्थानीय योग प्रशिक्षक कृष्णकांत मिश्रा (57) ने यह विशेष सत्र आयोजित किया और इसमें भाग लेने वाले किन्नरों को इस प्राचीन भारतीय पद्धति की विभिन्न मुद्राएं सिखायीं।

मिश्रा ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘‘इंदौर के साथ ही भोपाल, पुणे, नागपुर और बेंगलुरु के कुल 35 किन्नर शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करते हुए इस ऑनलाइन सत्र में शामिल हुए।” उन्होंने बताया, ‘‘यह सत्र करीब एक घंटे तक चला और इसके अंत में किन्नर समुदाय के प्रतिभागियों ने ईश्वर से प्रार्थना की कि वह समूचे विश्व को कोविड-19 के प्रकोप से मुक्ति दिलायें।” भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) में क्लर्क के रूप में काम करने वाले मिश्रा हर साल अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर अनूठे आयोजन कर लोगों का ध्यान खींचते हैं।

57 वर्षीय प्रशिक्षक ने बताया कि वर्ष 2018 के अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर उन्होंने नेपाल के दुर्गम पहाड़ी क्षेत्र हिलसा में 11,940 फुट की ऊंचाई पर करीब 40 लोगों को योगाभ्यास कराया था। तब गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स ने उनके इस कारनामे को ‘सबसे ऊंचे स्थान पर संपन्न योग सत्र’ के रूप में विश्व कीर्तिमान के तौर पर मान्यता दी थी। मिश्रा ने बताया कि उन्होंने पहले विश्व योग दिवस के मौके पर 21 जून 2015 को चलती रणथम्बौर एक्सप्रेस ट्रेन में यात्रियों को सीट पर बैठे-बैठे की जा सकने वाली योग मुद्राओं का अभ्यास कराया था। यह सुपरफास्ट ट्रेन मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर को राजस्थान के प्रमुख शहर जोधपुर से जोड़ती है।