जितिन प्रसाद के BJP में शामिल होने पर बोले सिंधिया- वह मेरे छोटे भाई जैसे, उनका स्वागत है

    भोपाल: जितिन प्रसाद बुधवार को कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हो गए हैं। उन्होंने रेलमंत्री पियूष गोयल ने पार्टी की सदस्यता दिलाई। इस बीच उनके पुराने साथी रहे और भाजपा राज्यसभा सांसद ज्योतरादित्य सिंधिया ने इसपर अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा, “वह मेरे छोटे भाई जैसे हैं और मैं उनका भारतीय जनता पार्टी में स्वागत करता हूं। इसी के साथ मैं उन्हें बधाई देता हूँ।”

    सिंधिया ने प्रसाद के भाजपा में शामिल होने के फैसले का स्वागत करते हुए यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘ मैं बहुत खुश हूं, वह मेरे छोटे भाई हैं।”   सिंधिया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा के नेतृत्व में देश विकास के मामले में आगे बढ़ रहा है।   सिंधिया ने कहा, ‘‘ मैं खुले दिल से उनका स्वागत करता हूं और भाजपा में शामिल होने के उनके फैसले पर उन्हें हार्दिक बधाई देता हूं।”     

    प्रसाद के गृह प्रदेश उत्तर प्रदेश में इससे भाजपा को ताकत मिलने की उम्मीद बतायी जा रही है। उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं।  संयोग से, सिंधिया और प्रसाद दोनों अलग-अलग समय पर राजनीतिक तौर पर अहम माने जाने वाले उत्तर प्रदेश के मामलों के कांग्रेस में प्रभारी थे। सिंधिया मार्च 2020 में अपने समर्थक विधायकों के साथ कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए थे।   

    सिंधिया ने बुधवार को यहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वी डी शर्मा और नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री भूपेन्द्र सिंह से मुलाकात की। सिंधिया ने शर्मा के आवास पर आरएसएस के वरिष्ठ नेताओं के साथ भोजन किया और इसके बाद चौहान के साथ उनके निवास पर बैठक की। यह बैठक लगभग एक घंटे से अधिक समय तक चली।  केन्द्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने के बारे में पूछे जाने पर सिंधिया ने कहा, ‘‘ मैं केवल लोगों के सेवा की परवाह करता हूं और मैं लोगों से जुड़े रहना चाहता हूं।”

    गौरतलब है कि जितिन प्रसाद ने बुधवार को भाजपा का दामन थाम लिया। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के लिए इसे एक बड़े झटके के रूप में देखा जा रहा है। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल और भाजपा सांसद अनिल बलूनी की मौजूदगी में प्रसाद ने यहां पार्टी मुख्यालय में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।