Ramayan Circuit will be developed to increase tourism in MP: Chief Minister Chauhan

भोपाल. मध्य प्रदेश के एक अस्पताल में पिछले 11 दिन से कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज करवा रहे प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को बुधवार को छुट्टी दे दी गई है। वह 25 जुलाई को इस अस्पताल में भर्ती हुए थे। अस्पताल ने इसकी जानकारी दी । ठीक होने के बाद अपने घर के लिए रवाना होने से पहले चौहान ने अस्पताल के कोरोना योद्धाओं से कहा, ‘‘मैं सभी मेडिकल स्टाफ का धन्यवाद करता हूं।” उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से डरने की जरूरत नहीं है। बीमारी से बचने के लिए सावधानी रखें । चौहान ने कहा कि हम हर संभव इलाज का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘सात दिन घर में ही पृथक-वास में रहूंगा और काम करता रहूंगा।” चौहान ने बताया, ‘‘कोरोना वायरस लाइलाज बीमारी नहीं है। हमारा संकल्प है – हम लड़ेंगे और जीतेंगे।”?

कोविड-19 के उपचार के लिए अधिकृत चिरायु मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल के डॉ. अजय गोयंगा ने आज सुबह मुख्यमंत्री की हेल्थ बुलेटिन जारी कर कहा, ‘‘अस्पताल में भर्ती होने के 12वें दिन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का स्वास्थ्य स्थिर है। उनमें पिछले 10 दिनों से किसी भी प्रकार का कोविड-19 के लक्षण नहीं दिखाई दिया। उनका उपचार कर रहे डॉक्टरों ने आज सुबह उनकी जांच की और सभी क्लिनिकल पैरामीटर सामान्य पाये।”

उन्होंने कहा, ‘‘डॉक्टरों ने उन्हें आईसीएमआर द्वारा कोविड-19 के लिए आठ मई 2020 को बनाये गये पॉलिसी के तहत अस्पताल से छुट्टी दी है। इस पॉलिसी के अनुसार किसी मरीज को कोविड-19 के लक्षण दिखने के बाद 10 दिनों मं छुट्टी दे दी जाती है, यदि उसे पिछले तीन दिनों से बुखार नहीं है। छुट्टी देने से पहले मरीज की कोविड-19 जांच जरूरी नहीं है।’ गोयंका ने कहा, ‘‘मुख्यमंत्री को अगले सात दिनों तक घर में स्वयं पृथक-वास पर रहने एवं अपने स्वास्थ्य की खुद निगरानी करने की सलाह दी गई है।” (एजेंसी)