Madhya Pradesh's economy has collapsed due to Kovid-19: Shivraj

भोपाल: मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दूरदर्शन के माध्यम से राज्य की जनता को संबोधित करते हुए लॉक डाउन के चौथे चरण में सरकार द्वारा निर्धारित किए दिशा निर्देशों की जानकरी दी. इस दौरान उन्होंने कहा, ” प्रदेश में कोरोना को काफी हद तक नियंत्रण लिया हैं, जिसको देखते हुए अब प्रदेश को तीन के बजाय दो जोन में रखा जाएगा। पहला रेड और दूसरा ग्रीन। वहीं सभी कन्टेनमेंट जोन में लॉक डाउन को बेहद कड़ाई स पालन किया जाएगा।”

रेड जोन वाले क्षेत्र:
  • उज्जैन, इंदौर (संपूर्ण जिला)
  • भोपाल, जबलपुर, देवास, खंडवा, बुरहानपुर (नगर निगम और पालिका क्षेत्र)
  • मंदसौर, नीमच, धार व कुक्षी के नगर पालिका क्षेत्र
इन क्षेत्रों को छोड़ कर अन्य सभी जिले ग्रीन जोन में रहेंगे।
 
इन पर रहेगी पाबंदी 

  • स्कूल, कॉलेज, कोचिंग, प्रशिक्षण संस्थान
  • होटल, रेस्टोरेंट, हॉस्पिटेलिटी सेवाएं
  • सिनेमा हॉल, शॉपिंग मॉल,
  • जिम, स्वीमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थियेटर्स
  • बार, ऑडिटोरियम
  • सामुदायिक, सामाजिक, राजनैतिक, खेलकूद, मनोरंजन, अकादमिक, सांस्कृतिक, धार्मिक आयोजन।
  • सार्वजनिक परिवहन की बसें 
  • धार्मिक स्थल, पूजा स्थल और धार्मिक सभाएं
ग्रीन जोन में शुरू होगी गतिविधियाँ 
मुख्यमंत्री ने कहा, ” सभी क्षेत्रों के लिए जारी प्रतिबंधों को छोड़ कर अन्य सभी तरह की गतिविधियों को शुरू करने की इजाज़त होगी। सभी दुकानें, परिवहन, बाज़ार शुरू किए जाएंगे। इसी के साथ सभी प्राइवेट और सरकारी कार्यालय खोलेंगे। अगर ग्रीन जोन में संक्रमितों की संख्या बढ़ती है तो उसे रेड ज़ोन में तब्दील कर दिया जायेगा।” उन्होंने कहा, “वहीँ निर्धारित कन्टेनमेंट जोन में आवश्यक वस्तुओं को छोड़ का अन्य सभी चीजों पर प्रतिबंध रहेगा। इस दौरान कोई भी व्यक्ति क्षेत्र के ना अंदर जा सकेगा और ना ही बाहर आ सकेगा।” 
 
अनिवार्य निर्देश 
प्रदेश के अंदर शादी के दौरान 50 लोग और दाह संस्कार के समय 20 लोगों की मौजूदगी की अनुमति होगी। इसी के साथ सड़क पर थूकने, सार्वजनिक स्थानों पर शराबपिने, गुटखा खाने और सिगरेट पिने पर दण्डातमक कार्यवाही की जाएगी। इसी के साथ दुकानों के बाहर एक समय में सिर्फ पांच लोग ही उपस्थित रहेंगे। सभी सार्वजनिक और प्राइवेट कार्यालयों में नियमित तौर पर स्क्रीनिंग की जाएगी साथ में मास्क, सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करना अनिवार्य होगा। 
 
किसानों का एक एक दाना खरी देंगे
शिवराज ने कहा, ” प्रदेश में किसानों किसानों का एक एक दाना ख़रीदा जाएगा। अभी तक कुल 90 मेट्रिक्स टन अनाज ख़रीदा जाचुका हैं और 10,000 करोड़ का भुगतान भी कर दिया गया हैं.”उन्होंने किसानो से आग्रह करते हुए कहा, ” जब  मोबाइल में मैसेज आ जाए तभी वह मंडी में जाए. इस दौरान वह मास्क और सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करें।”

आगे कहा, ” सरकार ने बिना ब्याज के लोन की व्यवस्था दुबारा कर दी हैं. इसके साथ किसनो को फ़सल बिमा के तहत 2290 करोड़ रुपए खातों में भेजे गए हैं.