बहुजन समाज पार्टी (Photo Credits-ANI Twitter)
बहुजन समाज पार्टी (Photo Credits-ANI Twitter)

    दमोह: मध्य प्रदेश पुलिस (Madhya Pradesh Police) ने हत्या के एक मामले में बसपा विधायक रामबाई (BSP MLA Rambai) के पति की गिरफ्तारी में मददगार होने वाली सूचना देने पर 30 हजार रुपये का इनाम घोषित किया है।    सागर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक अनिल शर्मा ने बुधवार के बताया कि गोविंद सिंह (Govind Singh) की गिरफ्तारी में मददगार होने वाली सूचना देने पर 30 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है। 

    वर्ष 2019 में हुई कांग्रेस नेता देवेंद्र चौरसिया की हत्या के मामले में गोविंद सिंह आरोपी हैं।   रामबाई सिंह प्रदेश के दमोह जिले की पथरिया विधानसभा क्षेत्र से बसपा की विधायक हैं और गोविंद सिंह उनके पति हैं।  गौरतलब है कि शीर्ष अदालत ने गत शुक्रवार को कहा था कि इस मामले के तथ्य बताते हैं कि 15 मार्च 2019 को प्राथमिकी दर्ज होने के बावजूद जांच अधिकारियों ने उसकी गिरफ्तारी के लिए कोई कदम नहीं उठाया। प्राथमिकी में चौरसिया के बेटे सोमेश ने आरोप लगाया था कि गोविंद सिंह उनके पिता की हत्या में लिप्त हैं।    उच्चतम न्यायालय द्वारा मामले को गंभीरता से लेने के बाद प्रदेश पुलिस ने सिंह को पकड़ने के प्रयास तेज कर दिये हैं। एक अन्य अधिकारी ने बताया कि सिंह पर इनाम घोषित करने के साथ ही विशेष कार्य बल (एसटीएफ) के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक विपिन माहेश्वर भी उसकी गिरफ्तारी के प्रयासों के क्रम में पिछले दो दिनों से दमोह में डेरा डाले हुए हैं।  

    इस बीच, पुलिस ने चौरसिया हत्याकांड की सुनवाई कर रहे अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश (एएसजे) की सुरक्षा एहतियात के तौर पर बढ़ा दी है।उच्चतम न्यायालय ने पिछले सप्ताह बसपा विधायक के पति को गिरफ्तार करने में पुलिस के असफल रहने पर गंभीर टिप्पणी की थी और प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) को आरोपी को तत्काल गिरफ्तार करने का निर्देश दिया था।     

    चौरसिया की मार्च 2019 में कांग्रेस के शामिल होने के बाद दमोह जिले के हटा शहर में हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने इस मामले में गोविंद सिंह और अन्य के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया था।